S M L

तमिलनाडु : शेल्टर होम में लड़कियों के साथ यौन उत्पीड़न मामले में NHRC ने लिया स्वत संज्ञान

वहीं शेल्टर होम के प्रभारी पर वहां रहने वाली लड़कियों द्वारा यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए जाने के बाद आरोपी शख्स को पॉक्सो कानून (POCSO Act) के तहत गिरफ्तार किया गया है

Updated On: Feb 01, 2019 07:10 PM IST

FP Staff

0
तमिलनाडु : शेल्टर होम में लड़कियों के साथ यौन उत्पीड़न मामले में NHRC ने लिया स्वत संज्ञान

तमिलनाडु के तिरुवन्नमलई (Tiruvannamalai) जिले के एक शेल्टर होम में रहने वाली लड़कियों के खिलाफ यौन उत्पीड़न के मामले में शुक्रवार को एनएचआरसी ने स्वत संज्ञान लिया है. वहीं शेल्टर होम के प्रभारी पर वहां रहने वाली लड़कियों द्वारा यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए जाने के बाद आरोपी शख्स को पॉक्सो कानून (POCSO Act) के तहत गिरफ्तार किया गया है. इसके अलावा, शेल्टर होम में रह रही 15 नाबालिग लड़कियों को वहां से निकाल कर परिसर को सील कर दिया गया है. रेस्क्यू की गई लड़कियों को एक सरकारी आवास में स्थानांतरित कर दिया गया है और मामले की आगे जांच की जा रही है.

NHRC has taken suo motu cognizance of reports that 15 minor girls have been rescued from a shelter home in Tiruvannamalai of Tamil Nadu following complaints of sexual abuse against the in-charge of the Home. pic.twitter.com/yCbKqEW7iX

— ANI (@ANI) February 1, 2019

पुलिस के मुताबिक, जिला कलेक्टर के. एस. कंडासामी ने मंगलवार रात शेल्टर होम का निरीक्षण किया और परिसर को सील कर दिया. उन्होंने यह कार्रवाई तब की जब आश्रय गृह में रहने वाली कुछ लड़कियों ने अधिकारियों को बताया कि आरोपी उनका यौन उत्पीड़न करता था. शेल्टर होम के प्रभारी पर आरोप है कि लड़कियों का यौन उत्पीड़न करने से पहले वह उन्हें पॉर्न दिखाता था.

तिरुवन्नमलई जिले में ऐसे शेल्टर होम्स में रहने वालों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों की ओर से चलाए गए एक अभियान के दौरान यह मामला सामने आया. इस अभियान के दौरान कुछ लड़कियों ने लिखित रूप में यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi