S M L

News18RisingIndia: पीएम मोदी ने कहा, जन-धन खाते खुलवाए तो उड़ाया जाता था सरकार का मजाक

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पहले गरीबों का पैसा भ्रष्टाचार में चला जाता था, लेकिन उनकी सरकार आने के बाद सवा चार सौ से अधिक योजनाओं का पैसा सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में जा रहा है.

Updated On: Feb 25, 2019 09:53 PM IST

FP Staff

0
News18RisingIndia: पीएम मोदी ने कहा, जन-धन खाते खुलवाए तो उड़ाया जाता था सरकार का मजाक

News18RisingIndia कार्यक्रम के पहले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल हुए. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले पांच सालों के दौरान अपनी सरकार के जरिए किए गए कामकाज का ब्यौरा दिया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने राजनीति से हटकर काम किया है.

जनधन योजना के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि जब जन-धन अकाउंट खुलवाए तो सरकार का मजाक उड़ाया जाता था और पूछा जाता था कि खाता खुलवाकर कौन सा तीर मारा है? जिनके पास खाने के लिए कुछ नहीं है वो बैंक में खाता खुलवाकर क्या करेंगे?

पीएम मोदी ने कहा कि ऐसी ही मानसिकता की वजह से हमारा देश में आजादी के इतने सालों के बाद भी लोगों के पास बैंक खाते नहीं है. उन्होने बताया कि उनकी सरकार में 34 करोड़ से अधिक लोगों के खाते खुले हैं. पीएम मोदी ने कहा, 'जनधन अकाउंट खुलने के बाद हमने उन्हें आधार नंबरों से जोड़ा. जब हमने आधार का सदउपयोग किया तो इन्होंने अदालत में जाकर अड़ेंगे डाले.'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पहले गरीबों का पैसा भ्रष्टाचार में चला जाता था, लेकिन उनकी सरकार आने के बाद सवा चार सौ से अधिक योजनाओं का पैसा सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में जा रहा है. उन्होंने बताया कि केंद्र ने 6 लाख करोड़ रुपए सीधे लाभार्थियों के खाते में जमा करवाए हैं. पीएम मोदी ने कहा कि जनधन, आधार और मोबाइल को जोड़ने का फायदा ये हुआ कि कागजों में दबे फर्जी नाम सामने आने लगे और ऐसे 8 करोड़ फर्जी नामों का खुलासा हुआ जिनके नाम पर सरकारी लाभ पहुंचता था.

(साभार: न्यूज 18 हिंदी)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi