S M L

न्यू ईयर: दिल्ली-एनसीआर के लोगों को नए साल पर भी प्रदूषण से राहत नहीं

नववर्ष और क्रिसमस से पहले चेतावनी दी गई थी कि खुले में आग जलाने, आतिशबाजी और जीवाश्म ईंधनों को जलाने आदि से हवा और जहरीली हो सकती है

Updated On: Jan 01, 2019 09:26 PM IST

Bhasha

0
न्यू ईयर: दिल्ली-एनसीआर के लोगों को नए साल पर भी प्रदूषण से राहत नहीं

दिल्ली वालों को साल 2019 का स्वागत प्रदूषण के बीच ही करना पड़ा. दिल्ली की वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ और ‘गंभीर’ श्रेणी में रही. अधिकारियों ने कहा कि मौसम की प्रतिकूल परिस्थितियों के बावजूद प्रदूषण के स्तर में कमी आ रही है.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी में नववर्ष के दिन समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 393 दर्ज किया गया, जबकि केंद्र द्वारा संचालित वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान प्रणाली (सफर) ने सूचकांक 402 दर्ज किया जो क्रमश: ‘बहुत खराब’ और ‘गंभीर’ श्रेणी में आता है.

सीपीसीबी के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली के 16 इलाकों में प्रदूषण स्तर ‘गंभीर’ दर्ज किया गया जबकि 18 जगहों पर हवा की गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ रही.

एनसीआर में भी हालत रही खराब:

गाजियाबाद और नोएडा में वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ रही, जबकि फरीदाबाद और गुरुग्राम में प्रदूषण का स्तर ‘बहुत खराब’ श्रेणी में रहा.

सीपीसीबी ने कहा कि दिल्ली में अति सूक्ष्म प्रदूषक कणों पीएम 2.5 का स्तर 267 रहा जबकि पीएम 10 का स्तर 437 दर्ज किया गया.

सफर ने कहा कि दिल्ली में प्रतिकूल मौसम परिस्थितियों के बावजूद वायु गुणवत्ता में मामूली सुधार हुआ है. इससे लगता है कि कल रात कोई अतिरिक्त उत्सर्जन नहीं हुआ. दिन में वायु की मध्यम गति से प्रदूषक तत्व बिखर रहे हैं और एक्यूआई में सुधार होने की संभावना है. हालांकि ज्यादा सुधार की संभावना नहीं है क्योंकि वायु वर्तमान परिस्थितियों में शांति रहने की उम्मीद है.

ये भी पढ़ें: दिल्ली: 31 दिसंबर को शराब पीकर गाड़ी चलाने के 509 मामले आए सामने, हुआ चालान

नववर्ष और क्रिसमस से पहले, सफर ने चेताया था कि खुले में आग जलाने, आतिशबाजी और जीवाश्म ईंधनों को जलाने आदि से हवा और जहरीली हो सकती है तथा वायु गुणवत्ता गंभीर से ऊपर की श्रेणी में जा सकती है.

इसमें कहा गया कि आर्द्रतायुक्त वायु के कल तक दिल्ली के ज्यादातर भागों में पहुंचने की संभावना है जिससे कोहरा छा सकता है. वायु गुणवत्ता अगले तीन दिन ‘बहुत खराब’ श्रेणी में ही रहने की संभावना है.

ये भी पढ़ें: Welcome 2019: दुनियाभर में ऐसे किया गया नए साल का स्वागत, देखें तस्वीरें

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi