S M L

न्यू फरक्का एक्सप्रेस हादसा: 7 लोगों की मौत, डिरेल होने की ये थी वजह

रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जांच में कोई बाधा नहीं आए इसलिए सिग्नल इंस्पेक्टर और इलेक्ट्रिकल सिग्नल मेंटेनर को निलंबित किया गया है

Updated On: Oct 11, 2018 04:28 PM IST

FP Staff

0
न्यू फरक्का एक्सप्रेस हादसा: 7 लोगों की मौत, डिरेल होने की ये थी वजह

न्यू फरक्का एक्सप्रेस हादसे के सिलसिले में रेलवे ने आज दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया. रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जांच में कोई बाधा नहीं आए इसलिए सिग्नल इंस्पेक्टर और इलेक्ट्रिकल सिग्नल मेंटेनर को निलंबित किया गया है. उन्होंने कहा कि पहली नजर में दुर्घटना की वजह गलत सिग्नल देना है. रेलवे सुरक्षा आयोग के मुख्य आयुक्त की सिफारिश पर हमने दो लोगों को निलंबित कर दिया है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि किसी साक्ष्य से छेड़छाड़ न हो.

हादसे में 7 लोगों की मौत और 30 से ज्यादा घायल

खबर है कि कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) ने जांच प्रांरभ करते हुए एक इलेट्रॉनिक सिग्नल मेंटेनर (ESM) और एक सिग्नल इंसपेक्टर को सस्पेंड कर दिया है. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में रायबरेली के निकट बीते बुधवार को न्यू फरक्का एक्सप्रेस का इंजन और कई डिब्बे पटरी से उतर गए थे. हादसे में 5 लोगों की मौत हो गई थी जबकि कम से कम 30 लोग घायल हो गए थे. बीते मंगलावर को न्यू फरक्का एक्सप्रेस सुबह 9 बजकर 5 मिनट पर पश्चिम बंगाल के मालदा टाउन स्टेशन से रवाना हुई थी. बुधवार दोपहर 2 बजकर 35 मिनट पर इसे दिल्ली पहुंचना था. इसी बीच बुधवार सुबह 6 बजकर 10 मिनट पर ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हो गई.

हादसे में मारे गए लोगों के परिजन को  मिलेंगे 5 लाख रुपए

रेल मंत्रालय ने उत्तरी सर्किल के रेल सुरक्षा आयोग से दुर्घटना की जांच कराने के आदेश देने के साथ-साथ हादसे में मारे गए लोगों के परिजन को पांच-पांच लाख रुपए, गंभीर रूप से घायलों को एक-एक लाख रुपए और कम जख्मी लोगों को 50-50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की थी. वहीं राज्य सरकार ने मृतकों के परिजन को दो-दो लाख रुपए तथा घायलों को 50-50 हजार रुपए की सहायता का एलान किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi