विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

नीट 2017: छात्राओं को उतारने पड़े इनरवियर, काटनी पड़ी जींस की जेब

कड़े नियमो के कारण छात्रों की हुई बड़ी परेशानी

FP Staff Updated On: May 08, 2017 09:48 AM IST

0
नीट 2017: छात्राओं को उतारने पड़े इनरवियर, काटनी पड़ी जींस की जेब

केरल के कन्नूर जिले में नीट एग्जाम देने आई छात्राओं ने आरोप लगाया है कि जबरदस्ती इनरवियर चेक किया और जींस उतारने को मजबूर किया गया. ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि मेटल डिटेक्टर से स्कैनिंग के वक्त पिन और बटन होने के कारण बीप कर रहा था. इस हरकत पर लोगों ने नाराजगी जताई है.

एक छात्रा के पिता ने बताया कि परीक्षा से पहले उनकी बेटी से टॉप उठाकर जांच करवाने और जींस पहनने की इजाजत न देने से काफी परेशान हो गई थी. उसके पिता ने कहा जब उनकी बेटी ने बटन हटा दिए और दोबारा जांच किया गया तो अब पॉकेट को लेकर आपत्ति की गई. राजेश को 4 किमी दूर अपने घर दोबारा जाकर अपनी बेटी के लिए लेगिंग्स लेकर आना पड़ा.

उसके पिता ने ये भी आरोप लगाया कि उन्‍होंने कई छात्रों को अपने अंत:वस्त्रों को अपनी मांओं को गेट पर सौंपते भी देखा. हालांकि अभी तक इस बारेे में किसी ने शिकायत दर्ज नहीं कराई है.

तेलुगु के बजाए सिर्फ अंग्रेजी और हिंदी में मिले पेपर

तेलंगाना के वारंगल नगर के एक परीक्षा केंद्र पर नीट की परीक्षा देने आए उम्मीदवारों ने आरोप लगाया कि उन्हें तेलुगु के बजाए अंग्रेजी और हिंदी में प्रश्न पत्र दिए गए. सहायक पुलिस आयुक्त पी. मुरली ने बताया कि हनमकोंडा इलाके के सेंट पीटर्स सेंट्रल पब्लिक स्कूल के परीक्षा केंद्र पर यह घटना हुई. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा में उपस्थित होने आए करीब 120 छात्र तेलुगु माध्यम स्कूलों के थे.

फर्जीवाडा करने वाले गिरोह के पांच सदस्य गिरफ्तार

पटना पुलिस ने नीट परीक्षा 2017 सहित अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं में फर्जीवाड़ा करने की तैयारी में लगे दो मेडिकल छात्र और विधि के एक छात्र सहित अंतर्राज्यीय गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया.

कैंची से काटनी पड़ीं आस्‍तीन

तमिलनाडु में नीट परीक्षा में पहली बार शामिल हुए कई छात्रों को परीक्षा केंद्र में प्रवेश से जुड़ी पर्याप्त जानकारी नहीं थी. इस कारण कुछ छात्रों को अपनी कमीज की आस्तीन छोटी करवानी पड़ी और अपने जूते छोड़ने पड़े. पूरी आस्तीन की शर्ट पहनकर परीक्षा केंद्र पर पहुंचे कई छात्रों को कैंची से कमीज की बांह काटनी पड़ी. कई छात्रों को अपना जूता छोड़ना पड़ा और उन्होंने अपने अभिभावक का सैंडल पहनकर परीक्षा केंद्र में प्रवेश किया. लड़कियों को भी बाल में लगाने वाले अपने पिन, बैंड और कान की बाली, नाक की पिन जैसे आभूषणों को उतारना पड़ा.

(न्यूज 18 हिंदी)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi