S M L

न्यायिक व्यवस्था में बुनियादी ढांचे की कमी को जल्द दूर करने की जरूरत : CJI

पर्याप्त आधारभूत संरचना पर ध्यान दिए बिना न्याय के प्रति प्रतिबद्धता को साकार नहीं किया जा सकता

Updated On: Sep 01, 2018 06:05 PM IST

Bhasha

0
न्यायिक व्यवस्था में बुनियादी ढांचे की कमी को जल्द दूर करने की जरूरत : CJI
Loading...

प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने शनिवार को कहा कि न्यायिक व्यवस्था में बुनियादी ढांचे की कमी को जल्द से जल्द दूर करने की जरूरत है. इसका हमारे न्यायिक प्रशासन पर गहरा असर हो सकता है इसलिए वित्तीय बाधाओं का बहाना बना के इसका इस्तेमाल किया जाते रहना ठीक नहीं है.

सुप्रीम कोर्ट एडवोकेट्स ऑन रिकॉर्ड एसोसिएशन (एससीएओआरए) द्वारा आयोजित 'प्रौद्योगिकी, प्रशिक्षण और बुनियादी ढांचे: शीघ्र न्याय की कुंजी' और 'भारत में कानूनी शिक्षा का बदलता चेहरा' विषय पर अपने व्याख्यान में न्यायमूर्ति मिश्रा ने कहा कि न्यायपालिका को मजबूत करना गुणात्मक और त्वरित न्याय में मददगार होगा.

उन्होंने कहा, 'आधारभूत ढांचे की कमी को बढ़ने नहीं दिया जाना चाहिए और न्याय प्रशासन पर गहरा निशान छोड़ने से पहले यथाशीघ्र इसका समाधान किया जाना चाहिए. वित्तीय बाधाएं कोई बहाना नहीं हैं. आवश्यकता न्यायपालिका को मजबूत करने की है, जिसके परिणामस्वरूप न्याय प्रदान करने की व्यवस्था तेज, गुणात्मक रूप से उत्तरदायी हो और न्याय के उद्देश्य की पूर्ति करे.'

पर्याप्त आधारभूत संरचना पर ध्यान दिए बिना न्याय के प्रति प्रतिबद्धता को साकार नहीं किया जा सकता

उन्होंने सुबह में सोसाइटी ऑफ इंडियन लॉ फर्म (एसआईएलएफ) और मेनन इंस्टीट्यूट ऑफ लीगल एडवोसीसी ट्रेनिंग द्वारा 'राष्ट्र निर्माण में कानूनी शिक्षा की भूमिका' पर विषय पर संगोष्ठी का उद्घाटन किया. इस कार्यक्रम का आयोजन 10 वें विधि शिक्षक दिवस पुरस्कार समारोह के हिस्से के रूप में किया गया.

बाद में, उन्होंने एससीओआरए सम्मेलन में भाग लिया, जिसका उद्घाटन भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने किया.

एससीओआरए के कार्यक्रम में सीजेआई ने जोर दिया कि पर्याप्त आधारभूत संरचना एक प्राथमिक चिंता बनी हुई है क्योंकि इसके बिना सबके लिए न्याय के प्रति प्रतिबद्धता को साकार नहीं किया जा सकता है.

उन्होंने कहा कि आम आदमी के वास्ते भौगोलिक पहुंच को बढ़ाने के लिए अदालतों के नेटवर्क का विस्तार करने की जरूरत है ताकि वादकारों और वकीलों के लिए जरूरी सुविधाएं प्रदान की जा सके.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi