S M L

हिन्दू-मुस्लिम छात्रों को अलग-अलग बैठाने का मामला: स्कूल प्रभारी तुरंत प्रभाव से निलंबित

राष्ट्रीय राजधानी के एक प्राथमिक विद्यालय में हिन्दू और मुस्लिम छात्रों को अलग-अलग कक्षाओं में बैठाने को लेकर उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) ने स्कूल के प्रमुख को निलंबित कर दिया है

Updated On: Oct 10, 2018 08:53 PM IST

Bhasha

0
हिन्दू-मुस्लिम छात्रों को अलग-अलग बैठाने का मामला: स्कूल प्रभारी तुरंत प्रभाव से निलंबित

राष्ट्रीय राजधानी के एक प्राथमिक विद्यालय में हिन्दू और मुस्लिम छात्रों को अलग-अलग कक्षाओं में बैठाने को लेकर उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) ने स्कूल के प्रमुख को निलंबित कर दिया है. एनडीएमसी के आयुक्त मंधूप व्यास ने यह जानकारी देते हुए शिक्षक के इस काम को 'अकल्पनीय' बताया और इसकी कड़ी निंदा की.

व्यास ने कहा, 'मुझे मेरे अधिकारियों ने आरोपों के बारे में जानकारी दी. हमने आरोपों की जांच करने का फैसला किया और दुर्भाग्य से यह आरोप सही पाए गए. हमने तुरंत प्रभाव से स्कूल के प्रमुख को निलंबित कर दिया है और उनके खिलाफ अहम जुर्माना आरोप पत्र की शुरुआत कर दी है.' आयुक्त ने कहा कि अधिकारी का आचरण बेतुका है और बहुलवादी समाज के मिजाज के खिलाफ है.

उन्होंने कहा, 'हमारी जांच के दौरान, यह पाया गया कि स्कूल प्रभारी ही था जिसने (छात्रों को) अलग-अलग कक्षाओं में बैठाना शुरू किया. ये बच्चे गरीब पृष्ठभूमि से आते हैं और इस तरह के कृत्यों से उन पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकते हैं. हम ऐसी चीजें बर्दाश्त नहीं करेंगे. यह अक्षम्य है.' प्राथमिक स्कूल बीजेपी शासित एनडीएमसी के वजीराबाद इलाके में पड़ता है. यह इलाका नगर निकाय के सिविल लाइंस जोन के तहत आता है. दिल्ली के नगर निगम के सभी स्कूल प्राथमिक हैं. नगर निगम के अन्य स्कूल के शिक्षकों ने घटना पर हैरानी जताई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi