S M L

नक्सलियों ने ली TDP विधायक की हत्या की जिम्मेदारी, कहा- नेता बन गए थे खनन माफिया

विशाखापट्टनम में टीडीपी के विधायकों पर नक्‍सलियों ने हमला कर हत्या कर दी थी. इस मामले में अब नक्सलियों में दोनों नेताओं की हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए हत्या करने की वजह का खुलासा किया है.

Updated On: Nov 02, 2018 08:34 PM IST

FP Staff

0
नक्सलियों ने ली TDP विधायक की हत्या की जिम्मेदारी, कहा- नेता बन गए थे खनन माफिया
Loading...

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के विधायकों पर नक्‍सलियों ने हमला कर हत्या कर दी थी. नक्‍सलियों के जरिए इस हमले में अराकू विधानसभा के विधायक किदारी सर्वेश्वर राव और इसी विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक सिवेरी सोमा दोनों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस मामले में अब नक्सलियों ने दोनों नेताओं की हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए हत्या करने की वजह का खुलासा किया है.

टीडीपी नेताओं की हत्या को लेकर नक्सलियों ने एक पत्र में लिखा है कि हमने किदारी और सिवेरी को मार डाला क्योंकि वे आदिवासियों के हितों को नजरअंदाज कर खनन माफिया में बदल गए थे और निर्वाचित होने के बाद आदिवासी लोगो पर उन्होंने ध्यान नहीं दिया.

पत्र में लिखा गया है कि कई चेतावनियों के बावजूद किदारी और सिवेरी दोनों ने प्राकृतिक और वन संसाधनों को लूटा. वे एल्यूमीनियम कंपनियों के लिए दलाल के रूप में बदल गए.

इसी साल 23 सितंबर को दोनों नेताओं को डुंब्रीगुडा मंडल में गोली मारी गई. जहां दोनों नेताओं की मौके पर ही मौत हो गई. इसके बाद आंध्र प्रदेश में सियासी खलबली भी मच गई थी. इस मामले में विशाखापट्टनम डीआईजी श्रीकांत ने बताया था 'माओवादियों के लगभग 20 सदस्यों ने उन पर हमला किया, सुरक्षाकर्मियों से हथियार छीना और बाद में उन पर गोलीबारी कर दी. दोनों की मौत मौके पर ही हो गई थी.'

दरअसल, राव वाईएसआर कांग्रेस पार्टी से टीडीपी में शामिल हुए थे. साथ ही चंद्रबाबू नायडू सरकार में कैबिनेट में वे मंत्री थे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi