S M L

मेरी पहली पाक यात्रा का मजाक बनाने वाले अब खुद अपनी बात से मुकर रहे हैं: नवजोत सिंह सिद्धू

नवजोत सिंह सिद्धू पाकिस्तान की तरफ से आधारशिला रखने के समय दोबारा पाकिस्तान गए थे. इसके लिए भी उनकी खुब आलोचना हुई

Updated On: Nov 30, 2018 04:31 PM IST

FP Staff

0
मेरी पहली पाक यात्रा का मजाक बनाने वाले अब खुद अपनी बात से मुकर रहे हैं: नवजोत सिंह सिद्धू

भारत और पाकिस्तान द्वारा करतारपुर कॉरिडोर को खोलने की घोषणा के बाद से भारत में राजनीति का दौर शुरु हो गया है. एक तरफ जहां कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू अपनी पाकिस्तान यात्रा को इसका श्रेय देने में लगे हैं, तो वहीं बीजेपी इसके लिए खुद की पीठ थपथपा रही है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और पूर्व किक्रेटर इमरान खान के शपथ ग्रहण में जाने और पाकिस्तान सेना प्रमुख को गले लगाने की वजह से नवजोत सिंह सिद्धू का देश में खुब विरोध हुआ था. अपनी पाक यात्रा का जिक्र करते हुए सिद्धू ने कहा: जब मैं पहली बार पाकिस्तान गया था और करतारपुर कॉरिडोर के लिए उनसे वादा करने की बात की थी, तो आलोचकों ने मेरा मज़ाक उड़ाया था. मुझ पर हंसे थे और अब वही लोग अपना ही थूका हुआ चाट रहे हैं और अपनी बात से मुकर रहे हैं.

इसके साथ ही पाकिस्तान यात्रा के बारे में उनकी पार्टी में क्या राय थी इस पर सिद्धू ने खुलकर कहा. पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा था कि उन्होंने सिद्धू को पाकिस्तान जाने से मना किया था. इसके बारे में सिद्धू ने कहा- ओके. लेकिन मुझे कम से कम 20 कांग्रेसी नेताओं ने मुझे जाने के लिए कहा था. केंद्रीय नेताओं ने मुझे जाने के लिए कहा था. पंजाब के मुख्यमंत्री मेरे पिता समान हैं. मैंने उन्हें कहा था कि मैंने उन्हें वादा कर दिया है कि मैं जाउंगा.

बीते बुधवार को करतारपुर कॉरिडोर की आधारशिला रखी गई. केंद्र सरकार ने 22 नवंबर को अगले साल होने वाले गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर करतारपुर कॉरिडोर निर्माण का फैसला किया था. भारत के इस फैसले के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी उसी दिन यह घोषणा की थी कि प्रधानमंत्री इमरान खान 28 नवंबर को अपने क्षेत्र में इस कॉरिडोर के बनने की आधारशिला रखेंगे.

यह भी पढ़ें: इमरान साब! करतारपुर में आप 22 गज के रिश्तों के कॉरिडोर का दरवाजा खटखटाना भूल गए

नवजोत सिंह सिद्धू पाकिस्तान की तरफ से आधारशिला रखने के समय दोबारा पाकिस्तान गए थे. इसके लिए भी उनकी खुब आलोचना हुई थी. हालांकि पाकिस्तान ने सिद्धू के अलावा इसमें शामिल होने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी न्योता भेजा था. मगर दोनों ने विभिन्न कारणों से इसमें शरीक होने से असमर्थता जताई थी.

यह भी पढ़ें: 'दोस्त' इमरान के बुलावे पर फिर पाकिस्तान पहुंचे सिद्धू, करतारपुर कॉरिडोर कार्यक्रम में होंगे शरीक

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi