S M L

केरल: NCW ने की चर्च में कन्फेशन पर रोक की सिफारिश, पादरियों ने किया विरोध

कैथोलिक चर्च के नेताओं ने राष्ट्रीय महिला आयोग की सिफारिश की निंदा करके हुए इसे धार्मिक आजादी में दखल कहा है.

Updated On: Aug 05, 2018 04:26 PM IST

FP Staff

0
केरल: NCW ने की चर्च में कन्फेशन पर रोक की सिफारिश, पादरियों ने किया विरोध

राष्ट्रीय महिला आयोग द्वारा केरल के गिरजाघरों में कन्फेशन पर रोक लगाने की सिफारिश खिलाफ गिरजाघरों ने विरोध जताया है. एनडीटीवी में छपी खबर के मुताबिक फादर जार्ज अब्राहम ने कहा कि राष्ट्रीय महिला आयोग की सिफारिश प्राचीन भारतीय परंपरा की आत्मा के खिलाफ है जो सभी धर्मों और मतों के प्रति सहिष्णुता और सम्मान की भावना रखना सिखाती है. उन्होंने कहा कि हमने भारत सरकार से अनुरोध किया है कि वो महिला आयोग की इस एकतरफा और अपरिपक्व प्रस्ताव को खारिज करें क्योंकि यह भारतीय संविधान द्वारा दी गई धार्मिक स्वतंत्रता के अधिकार के खिलाफ है. कैथोलिक चर्च के नेताओं ने राष्ट्रीय महिला आयोग की सिफारिश की निंदा करके हुए इसे धार्मिक आजादी में दखल कहा है.

महिला आयोग ने पिछले महीने यह सिफारिश तब की थी, जब कई महिलाओं ने चर्च के पादरियों और अधिकारियों के ऊपर रेप और यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. इसमें से एक मामला कन्फेशन से जुड़ा हुआ था, जिसमें पीड़िता ने आरोप लगाया था कि मलंकारा ऑर्थोडोक्स सीरियन चर्च के पादरी ने उसके कन्फेशन के आधार पर उसे ब्लैकमेल करके उसका वर्षों से यौन शोषण कर रहे थे.

राष्ट्रीय महिला आयोग ने इसके बाद अपनी रिपोर्ट यह सिफारिश की थी सरकार को इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए और कन्फेशन की परंपरा को खत्म करना चाहिए क्योंकि यह महिलाओं की सुरक्षा को खतरे में डालता है.

पिछले महीने भी 3 महिलाओं ने पादरियों के ऊपर यौन शोषण का आरोप लगाया था. उन्होंने यह भी कहा कि चर्च ने उनकी शिकायतों पर सही से जांच नहीं की और इस मामले को दबाने की कोशिश की. पिछले एक साल में केरल के अलग-अलग गिरजाघरों के एक दर्जन से अधिक पादरी यौन शोषण और यौन उत्पीड़न के मामलों में गिरफ्तार हो चुके हैं.

(तस्वीर: प्रतीकात्मक)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi