S M L

'नाथू ला पास' से 500 लोग जाएंगे कैलाश मानसरोवर यात्रा, चीन ने खोला रास्ता

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने विदेश मंत्रालय के एक कार्यक्रम में कैलाश मानसरोवर यात्रा पर जाने वाले 1580 लोगों का नाम कंप्यूटर ड्रॉ में निकाला

FP Staff Updated On: May 08, 2018 01:41 PM IST

0
'नाथू ला पास' से 500 लोग जाएंगे कैलाश मानसरोवर यात्रा, चीन ने खोला रास्ता

इस साल 1580 श्रद्धालु कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर जाएंगे. इनमें से 500 यात्री नाथू ला के सड़क मार्ग से यहां जाएंगे. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार को दिल्ली में विदेश मंत्रालय के एक कार्यक्रम में कैलाश मानसरोवर यात्रा पर जाने वालों का नाम कंप्यूटर ड्रॉ में निकाला.

उन्होंने बताया कि कैलाश मानसरोवर के यात्रियों की सुविधा के लिए इस साल हेल्पलाइन शुरू की गई है. जिससे यात्रियों को मार्ग में किसी तरह की कोई समस्या होने पर वो सीधा हमसे संपर्क साध सकें और हम उनकी मदद के लिए कदम उठाए सकें.

सुषमा स्वराज ने बताया कि यात्रा के लिए नाथू ला पास को फिर से खोल दिया गया है. उन्होंने चीन के विदेश मंत्री से दोनों देशों के संबंधों में बेहतरी लाने की दिशा में काम करने को कहा. उन्होंने कहा, 'जब तक भारत-चीन के नागरिकों के बीच रिश्ते नहीं सुधरेंगे तब तक दोनों देशों के रिश्ते मधुर नहीं होंगे. उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष चीन द्वारा नाथू ला पास बंद कर दिए जाने के बाद कड़वाहट भर गई थी. लेकिन मुझे अब यह बताते हुए खुशी हो रही है कि यात्रा के लिए इसे (नाथू ला पास) फिर खोल दिया गया है. '

इस वर्ष 1080 श्रद्धालु 60-60 के दल में 18 बैच में पारंपरिक लिपुलेख दर्रे मार्ग से कैलाश मानसरोवर यात्रा पर जाएंगे. जबकि 50-50 के दल में यात्रियों के 10 बैच नाथू ला पास से होकर यहां जाएंगे

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi