S M L

नसीरुद्दीन शाह को रामदेव की सीख: जिसको भारत सेफ नहीं लगता वो कहीं और जाए

कुछ दिनों पूर्व ही एक्टर अनुपम खेर ने भी नसीरुद्दीन के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि देश में इतनी आजादी है कि सेना को अपशब्द कहे जा सकते हैं

Updated On: Dec 23, 2018 05:44 PM IST

FP Staff

0
नसीरुद्दीन शाह को रामदेव की सीख: जिसको भारत सेफ नहीं लगता वो कहीं और जाए

बुलंदशहर हिंसा और मॉब लिंचिंग की बढ़ रही घटनओं के बीच नसीरुद्दीन शाह के आए बयान के बाद प्रतिक्रियाओं की बाढ़ आई हुई है. कुछ लोग उनके पक्ष में तो कुछ उनके विरोध में बोल रहे हैं. इस बीच योगगुरु रामदेव भी अब इस विवाद में कूद पड़े हैं. नसीरुद्दीन शाह के आए बयान पर पत्रकारों ने जब रामदेव से इस पर उनकी प्रतिक्रिया मांगी तो उन्होंने कहा, 'जिनको हिंदुस्तान सेफ नहीं लगता, वो जहां जाना चाहते हैं, वहां जाकर बस जाएं'.

न्यूज़ 18 की खबर अनुसार कुछ दिनों पूर्व ही एक्टर अनुपम खेर ने भी नसीरुद्दीन के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि देश में इतनी आजादी है कि सेना को अपशब्द कहे जा सकते हैं. एयर चीफ की बुराई की जा सकती है. सैनिकों पर पथराव किया जा सकता है. इस देश से और कितनी आजादी चाहिए? उन्हें (नसीरुद्दीन शाह) जो कहना था वो उन्होंने कह दिया. लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि वो सच है.

क्या है पूरा मामला?

बीते गुरूवार को नसीरुद्दीन शाह ने एक वीडियो जारी किया था, इस वीडियो में उन्होंने ने कहा '' समाज में जहर फैल चुका है. मुझे मेरे बच्चों और परिवार को लेकर अब चिंता होती है. कभी भीड़ ने मेरे घर बच्चों को घेर के पूछ लिया की उनका महजब क्या है वो हिंदू हो या मुस्लिम तो वो इसका जवाब नहीं दे पाएंगे. देश में किसी पुलिसवाले की मौत से ज्यादा अहम गाय की मौत है'' नसीरुद्दीन शाह ने बुलंदशहर हिंसा का जिक्र करते हुए इस बात को कहा है कि आज के भारत में एक गाय की जान पुलिस वाले से ज्यादा कीमती है. नसीरुद्दीन शाह ने बुलंदशहर हिंसा का जिक्र करते हुए इस बात को कहा है कि आज के भारत में एक गाय की जान पुलिस वाले से ज्यादा कीमती है.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi