S M L

नैनीताल ‘हाउसफुल’ है, अपनी गाड़ी शहर के बाहर छोड़कर आएं

उत्तराखंड हाईकोर्ट ने शहर में यातायात की लचर व्यवस्था के लिए अधिकारियों को लताड़ा था. इसके बाद यह कदम उठाया गया है

Bhasha Updated On: Jun 12, 2018 04:58 PM IST

0
नैनीताल ‘हाउसफुल’ है, अपनी गाड़ी शहर के बाहर छोड़कर आएं

मशहूर टूरिस्ट डेस्टिनेशन नैनीताल गाड़ियों से पटा पड़ा है इसलिए अगर आप अपनी गाड़ी से नैनीताल जाना चाहते हैं तो आपको अपनी गाड़ी शहर के बाहर ही छोड़नी पड़ेगी. शहर के अधिकारियों ने निजी गाड़ियों में आ रहे लोगों से आग्रह किया है कि वे अपनी गाड़ियों को शहर की सीमा के बाहर छोड़कर ही शहर में प्रवेश करें. शहर में कई जगहों पर इस संबंध में बैनर लगाए गए हैं.

उत्तराखंड हाईकोर्ट ने शहर में यातायात की लचर व्यवस्था के लिए अधिकारियों को लताड़ा था. इसके बाद यह कदम उठाया गया है.

अमूमन किसी भी शहर में जाने पर वहां ‘स्वागत’ के बोर्ड लगे होते हैं लेकिन नैनीताल के प्रमुख चौराहों और पर्यटन स्थलों पर ‘नैनीताल हाउसफुल’ के बैनर लगे हुए हैं. भीमताल चौराहा, काठगोदाम पुलिस चौकी चौराहा और नरीमन चौराहा पर ये बैनर लगे हुए हैं.

नैनीताल के यातायात पुलिस के प्रभारी महेश चंद्र ने बताया कि ये बैनर सोमवार को लगाए गए क्योंकि अधिकारियों को यातायात को नियंत्रित करने में खासी मशक्कत हो रही है. उन्होंने बताया कि नैनीताल में 12 पार्किंग स्थल हैं, जिसमें कुल 2,000 चारपहिया वाहनों को रखा जा सकता है लेकिन शहर में प्रतिदिन तीन से चार हजार वाहन आ रहे हैं.

अधिकारी ने बताया कि दिल्ली और उत्तर प्रदेश से सप्ताहांत में सैलानियों के आने पर यातायात की स्थिति नियंत्रण से बिल्कुल बाहर हो जा रही है.

उन्होंने कहा, ‘ ऐसी स्थिति में हमारे पास पर्यटकों से शहर की सीमा के बाहर वाहन छोड़कर आने का आग्रह करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है.’

पर्यटकों के वाहनों को शहर के बाहरी इलाके कालाडुंगी, नारायण नगर, रूसी बाईपास के पास अस्थायी तौर पर रोका जा रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi