S M L

नाहरगढ़ शव मामलाः पद्मावती का विरोध नहीं, ये था मौत का कारण

फोरेंसिक टीम ने 9 दिसंबर को पुलिस को अपनी फाइनल रिपोर्ट सौंपी थी, रिपोर्ट में कहा गया है कि यह हत्या नहीं बल्कि आत्महत्या है

FP Staff Updated On: Dec 12, 2017 04:35 PM IST

0
नाहरगढ़ शव मामलाः पद्मावती का विरोध नहीं, ये था मौत का कारण

जयपुर के नाहरगढ़ किले पर नवंबर की 24 तारीख को एक झुलता हुआ शव मिला था. इस शव के आसपास फिल्म पद्मावती का विरोध करने वालों के खिलाफ भी लिखा गया था. इस हत्या को फिल्म पद्मावती से जोड़ कर देखा गया था. अब इस मामले में फोरेंसिक रिपोर्ट आई है. मंगलवार को आई इस रिपोर्ट में मौत की वजहों को वित्तीय संकट का होना बताया गया है.

फोरेंसिक टीम ने 9 दिसंबर को पुलिस को अपनी फाइनल रिपोर्ट सौंपी थी. जिसमें कहा गया है कि यह हत्या नहीं बल्कि आत्महत्या है. टीम ने दावा किया कि सबूतों की पूरी गहनता से जांच की गई है. अंतिम सबमिशन में पांच अलग-अलग रिपोर्ट दी गई थी जिसमें विसरा की रिपोर्ट भी शामिल थी।

वहीं पत्रिका की खबर के मुताबिक, चेतन सैनी ने अपनी पत्नी की गहनों पर मन्नापूरम फिनांस लिमिटेड से गोल्ड लोन लिया था जिसे वह लौटा नहीं पा रहा था. इसके अलावा भी सैनी ने कई जगह से लोन लिया हुआ था. इन कारणों से वो वित्तीय संकट में था. राजस्थान पुलिस को लग रहा है कि वित्तीय कारणों से परेशान होने के कारण ही उसने आत्महत्या का रास्ता चुना.

नाहरगढ़ किले पर सैनी के शव मिलने पर खूब हंगामा भी हुआ था. इसे फिल्म पद्मावती का विरोध करने वालों के लिए सबक बताया गया था. जहां से शव बरामद हुआ था वहां पास में पड़े पत्थरों पर धमकियां भी लिखीं गई थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi