live
S M L

नगरोटा और सांबा में आतंकी हमला, 7 आतंकी ढेर, 7 जवान शहीद

दो आतंकी हमलों में सात जवान शहीद, सात आतंकी मारे गए

Updated On: Nov 30, 2016 09:03 AM IST

IANS

0
नगरोटा और सांबा में आतंकी हमला, 7 आतंकी ढेर, 7 जवान शहीद

नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर में दो अलग-अलग जगहों पर आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में सेना ने सात आतंकवादियों को मार गिराया. इन दोनों आतंकी हमलों में भारतीय सेना के दो अधिकारियों समेत सात जवान शहीद हो गए.

जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में सेना के कैंप पर आतंकियों ने हमला किया. आतंकियों के हमले में सेना के एक अधिकारी सहित तीन जवान शहीद हो गए. नगरोटा में सेना के 16वीं बटालियन का ऑफिस है. मंगलवार सुबह पुलिस की वर्दी में आए आतंकियों ने सेना की यूनिट पर हमला किया. सुरक्षाकर्मियों ने तीनों आतंकियों को मार गिराया. मरने वाले तीनों आतंकी पाकिस्तानी बताए जाते हैं.

दूसरा हमला जम्मू क्षेत्र सांबा के रामगढ़ स्थित छन्नी फतवाल पोस्ट पर मंगलवार हुआ. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान एक गोला-बारूद डिपो में आग लगने से बीएसएफ के छह जवान घायल हो गए. घायल जवानों में डीआईजी बीएस कसाना और विशेष ऑपरेशंस समूह के महानिरीक्षक सरबजीत सिंह भी शामिल हैं. यह मुठभेड़ जम्मू से लगभग 40 किलोमीटर दूर सांबा जिले में हुई.

सेना के प्रवक्ता मनीष मेहता ने जानकारी दी कि 'इनमें सेना के दो अधिकारी और पांच जवान शामिल हैं. दो आतंकवादी नगरोटा में व तीन सांबा के रामगढ़ में मारे गए हैं. रामगढ़ में घुसपैठ करने वाले तीन आतंकी मारे गए, लेकिन उन द्वारा लगाइ गई आइडी फटने से बीएसएफ के डीआइजी समेत 5 कर्मी घायल हो गए.

नगरोटा हमले को लेकर सेना के प्रवक्ता मनीष मेहता के फर्स्टपोस्ट के समीर यासिर को बताया, 'आतंकियों ने चार से पांच परिवारों को बंधक बनाने की कोशिश की. इन परिवारों को बचाने के प्रयास में एक एक अधिकारी को अपनी जान गंवानी पड़ी.'

Army

फोटो: पीटीआई

नगरोटा हमले में करीब एक दर्जन जवान घायल हुए. इनमें 166 बटालियन के मेजर कुणाल भी घायल हो गए. शाम को सर्च आॅपरेशन रुकने तक दो अधिकारियों समेत सात जवान शहीद हो गए, जबकि कई अन्य घायल हैं.

रक्षा प्रवक्ता कर्नल एनएन जोशी ने फर्स्टपोस्ट को बताया, 'अधिकारियों के परिवारों वाले भवन में आतंकी घुसे और उन्हें बंधक बनाने की कोशिश की. जल्दी से स्थिति संभाली गई और सभी लोगों को सफलतापूर्वक बचा लिया गया. इनमें 12 सैनिक, दो महिलाएं और दो बच्चे थे. इस कोशिश में एक अधिकारी और दो जवानों को जान गंवानी पड़ी.'

सांबा के रामगढ़ में हुए हमले में बीएसएफ के जवानों ने तीन आतंकी मार गिराए. अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर के करीब कई घंटे की मुठभेड़ के अलावा यहां पर क्रॉस बॉर्डर फायरिंग भी हुई, जिसमें चार सुरक्षाकर्मी और बीएसएफ के डीआईजी घायल हो गए.

नरगोटा में मंगलवार को एक सैन्य शिविर के नजदीक भारी हथियारों से लैस आत्मघाती हमलावरों ने हमला कर दिया, जिसके बाद भारतीय सेना और आतंकवादियों के बीच गोलीबारी शुरू हो गई, जिसमें तीन जवान शहीद हो गए और चार हमलावरों को मार गिराया गया.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इन आतंकवादियों के पास स्वचालित हथियार और विस्फोट थे और इन्होंने तड़के लगभग 5.30 बजे सैन्य शिविर में सेंध लगाई. इन्होंने जम्मू से लगभग 20 किलोमीटर दूर नगरोटा में सैन्य शिविर पर अंधाधुंध गोलीबारी करनी शुरू कर दी. अधिकारी ने बताया, 'इस हमले में तीन जवान शहीद हो गए, जबकि दो आतंकवादियों को मार गिराया गया, जबकि तीन जवान घायल भी हुए हैं.'

सुरक्षाबलों ने क्षेत्र को चारों ओर से घेरकर जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को बंद कर दिया है. नगरोटा में जहां सेना और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ जारी है, इसी बीच नगरोटा से 40 किलोमीटर दक्षिण में स्थित सांबा में भी आतंकवादियों के खिलाफ मुठभेड़ चल रही है.

(समाचार एजेंसी आईएएनएस व स्थानीय इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi