विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

आखिरकार 20वें दिन हुआ गैंगस्टर आनंदपाल सिंह का अंतिम संस्कार

अंतिम संस्‍कार के लिए कर्फ्यू में एक घंटे की राहत दी गई

FP Staff Updated On: Jul 13, 2017 09:00 PM IST

0
आखिरकार 20वें दिन हुआ गैंगस्टर आनंदपाल सिंह का अंतिम संस्कार

19 दिन पहले पुलिस एनकाउंटर में मारे गए कुख्‍यात गैंगस्‍टर आनंदपाल सिंह का गुरुवार शाम अंतिम संस्‍कार हो गया है. अंतिम संस्‍कार सांवराद गांव में किया गया.

मिली जानकारी के अनुसार, ग्रामीणों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार कराया गया है. आनंदपाल के गांव में मीडियाकर्मियों को जाने से रोक दिया गया है. अंतिम संस्‍कार के लिए कर्फ्यू में एक घंटे की राहत दी गई.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आनंदपाल के परिजन राजी हो गए थे. शव के अंतिम संस्कार की तैयारी को लेकर प्रशासन ने सांवराद में एक घंटे की ढील दी थी. अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि सरकार ने आनंदपाल के परिजनों की कौनसी मांगे मानी हैं.

बुधवार को लगा था कर्फ्यू

आपको बता दें कि बुधवार को राजपूत समाज की रैली में प्रदर्शन के दौरान हिंसा के बाद सांवराद गांव में कर्फ्यू लगा दिया गया था, जिसके कारण चारों ओर सन्नाटा पसरा हुआ था. केवल पुलिस के जवान ही चारों और नजर आ रहे थे. गांव में किसी को भी प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा था. पुलिस ने हिंसा के बाद 211 लोगों को हिरासत में लिया गया है. इनमें प्रमुख रूप से करनी सेना के संरक्षक लोकेंद्र सिंह कालवी, राजेंद्र सिंह गुढ़ा और सुखदेव सिंह गोगामेडी सहित कई प्रमुख नेता शामिल हैं.

उपद्रवियों ने छीने पुलिस के हथियार

बुधवार शाम को हिंसक भीड़ में सांवराद रेलवे स्टेशन में आग लगाकर पुलिस के जवानों पर जानलेवा हमला कर दिया था, जिसमें कई पुलिस के जवान घायल भी हुए थे. उपद्रवियों द्वारा पुलिस के हथियार छीनने का मामला भी सामने आया, जिसमें एके-47 व पिस्टल थी.

रेल की पटरियां उखाड़ीं

सांवराद रेलवे स्टेशन पर 1 किलोमीटर तक रेल पटरियां उखाड़ कर फेंक दी गई थीं. इसके बाद एक दर्जन रेलगाड़ियों को डाइवर्ट व स्थगित कर दिया गया था. रेलवे विभाग द्वारा युद्धस्तर पर रेल पटरी सुधारने का काम जारी है. रेलवे स्टेशन की हालत को देख कर ऐसा लगता है कि उपद्रवियों ने जमकर उत्पात मचाया था.

यहां मचाया आंदोलनकारियों ने तांडव

रेलवे स्टेशन मास्टर के कक्ष को पूरी तरह से जला कर राख कर दिया गया. इसके अलावा 19 से रेलवे के क्वार्टर हैं जहां पर तांडव मचाया गया. रेलवे ट्रैक पर उपद्रव के दौरान नागौर एसपी परिस देशमुख मौके पर पहुंचे. उपद्रवियों ने एसपी की गाड़ी को आग लगाकर उनपर हमला बोल दिया. इसके बाद फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत हुई. वह एक अन्य के गोली लगने से घायल अवस्था में उसे जयपुर रेफर किया गया है.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi