live
S M L

नाभा जेल से फरार आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू गिरफ्तार

हमला कर मिंटू सहित दो आतंकवादियों और चार गैंगस्टर्स को भगाया गया था.

Updated On: Nov 28, 2016 01:09 PM IST

Pawas Kumar

0
नाभा जेल से फरार आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू गिरफ्तार

पंजाब पुलिस और दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने नाभा जेल से रविवार को फरार हुए खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) के सरगना हरमिंदर सिंह मिंटू को एक संयुक्त अभियान के तहत सोमवार सुबह गिरफ्तार कर लिया.

विशेष प्रकोष्ठ के एक शीर्ष अधिकारी के मुताबिक, मिंटू को दिल्ली में एक रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया गया.

विशेष प्रकोष्ठ के एक शीर्ष अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया, 'उसने सुभाष नगर में अपने एक रिश्तेदार से संपर्क किया था, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसके फोन कॉल से उसे गिरफ्तार करने में मदद मिली।'

यह गिरफ्तारी रविवार को पंजाब की अतिसुरक्षित नाभा जेल से दो आतंकवादियों और चार गैंगस्टर्स के फरार होने के 24 घंटे के भीतर हुई है. हथियारबंद लोगों ने जेल पर हमला कर कैदियों को फरार होने में मदद की थी.

अधिकारी ने बताया कि मिंटू को दिल्ली की एक स्थानीय अदालत में पेश किया जाएगा और उसके बाद ट्रांजिट रिमांड पर पंजाब पुलिस को सौंप दिया जाएगा.

नाभा जेल तोड़ने में कथित तौर पर मदद करने वाले बंदूकधारियों में से एक परमिंदर सिंह उर्फ पम्मा सिंह को रविवार शाम को उत्तर प्रदेश के शामली जिले से गिरफ्तार कर लिया गया था.

इससे पहले सोमवार को अधिकारियों ने कहा था कि सुरक्षा एजेंसियां जेल तोड़कर भागे दोनों खूंखार आतंकवादियों और चारों गैंगस्टर्स की खोजबीन कर रही हैं.

पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान और हिमाचल प्रदेश में पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है. नेपाल की ओर जाने वाले रास्तों पर भी खोजबीन की जा रही है.

इस बीच पुलिस ने हरियाणा की ओर जाने वाली पटियाला-चीका मार्ग पर फरार कैदियों को पकड़ने के लिए लगाए गए एक बैरिकेड पर न रुकने पर एक वाहन पर गोलीबारी की, जिसमें एक महिला की मौत हो गई. पुलिस सूत्रों ने बताया कि पहचान में हुई गलती के चलते यह घटना हुई.

जेल पर हमला कर छुड़ाया था

जेल अधिकारियों ने पुलिस को बताया कि हमलावर बाहरी सुरक्षाकर्मियों को यह कहकर जेल परिसर में घुस गए कि वे एक कैदी को सत्यापन के लिए लाए हैं.

जेल से सुबह फरार हुए कैदियों में मिंटू के अलावा कश्मीर गलवाडी, विकी गोंडर, गुरप्रीत सेखोन, कुलप्रीत उर्फ नीता देओल और विक्रमजीत भी शामिल है. मिंटू को 2014 में गिरफ्तार किया गया था और उसके खिलाफ 10 मामले चल रहे हैं. मिंटू कई बार पाकिस्तान जा चुका है और कथित तौर पर इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) से प्रशिक्षण प्राप्त है.

जेल अधिकारियों ने कहा कि पुलिस की वर्दी में आए हमलावरों ने सुनियोजित हमले के दौरान 100 के करीब गोलियां चलाईं. इतनी गोलीबारी के बावजूद जेल में कोई भी घायल नहीं हुआ है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि जेल में तैनात सुरक्षाकर्मियों ने जवाबी गोलीबारी नहीं की, जिससे संदेह पैदा होता है. हमलावरों ने जेल के सुरक्षाकर्मियों की एक एसएलआर (सेल्फ लोडिंग राइफल) भी छीन ली. हथियारों से लैस करीब 10-12 हमलावर एक टोयोटा फॉर्च्यूनर एसयूवी सहित दो कारों से जेल परिसर में घुसे थे.

पंजाब के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) सुरेश अरोड़ा ने इस बीच जेल की सुरक्षा में चूक और हमले में मिलीभगत की बात स्वीकार की है.

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और जी प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi