S M L

मोदी जी ने मेरी बेटी को इनाम दिया था, आज उसका रेप हो गया: पीड़िता की मां

जब मेरी बेटी ने सीबीएसई में टॉप किया था तो मोदी जी ने ही उसे अपने हाथों से उसे इनाम दिया था, लेकिन आज उसके साथ ये सब कुछ हो गया. इसके बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की

Updated On: Sep 14, 2018 03:06 PM IST

FP Staff

0
मोदी जी ने मेरी बेटी को इनाम दिया था, आज उसका रेप हो गया: पीड़िता की मां

सीबीएसई 2018 की टॉपर रही हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले की 19 वर्षीय युवती के साथ कथित गैंगरेप का मामला सामने आने के बाद पीड़िता की मां ने अपना एक वीडियो जारी किया है. वीडियो में बेटी को इंसाफ देने की गुहार लगा रही पीड़िता की मां रो रही है.

पीड़िता की मां ने अपना दर्द बयान करते हुए कहा, मोदी जी कहते हैं बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ, लेकिन कैसे? मेरी बेटी तो पढ़ने ही गई थी. कोचिंग के रास्ते से उसे किडनैप कर लिया गया. किडनैप कर के मेरी बेटी को शाम चार बजे बस स्टैंड पर नशे की हालत में छोड़कर पंकज और मनीष भाग गया. दोनों ही लड़के मेरी बेटी को उठा कर ले गए. वो उसको दूर के गांव में ले गए जहां और भी बच्चे थे. उन सभी ने मेरी बच्ची के साथ बहुत बुरा हाल किया. मोदी जी कहते हैं बेटी को पढ़ाएं, कहां से पढ़ाएं, कैसे पढ़ाएं, मेरी बेटी को न्याय दिलाओ.

जब मेरी बेटी ने सीबीएसई में टॉप किया था तो मोदी जी ने ही उसे अपने हाथों से उसे इनाम दिया था, लेकिन आज उसके साथ ये सब कुछ हो गया. इसके बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. आरोपी कंप्लेन नहीं करने की धमकी दे रहे हैं. मुझे अपनी बेटी को न्याय दिलाना है.

क्या है पूरा मामला?

रेप पीड़िता रोज की तरह सुबह सुबह अपने कोचिंग क्लास के लिए निकली थी. रास्ते में ही उसे अपने ही गांव के तीन युवक मिले. जिन्होंने लिफ्ट देने के बहाने से उसे गाड़ी में बिठा लिया.

गांव से कोचिंग सेंटर तक पैदल ही रास्ता तय करने की वजह से युवती को प्यास लगी थी. लड़कों ने उसे पानी ऑफर की. युवती किसी भी अनहोनी से अनजान पानी पीने लगी, लेकिन पानी में नशीला पदार्थ मिलाया हुआ था.

तीनों युवक पंकज, मनीष और नीसु ने युवती को अगवा कर के दूर झज्जर जिले की सीमा के खेलों में बने कुएं पर ले गएं पर ले गएं और उसका रेप किया. युवती नशे की हालत में ती. युवकों ने और भी कई लोगों को बुलाया और सभी ने बारी बारी से उसका रेप किया.

पुलिस नहीं कर रही कोई सुनवाई

करीब शाम 4 बजे के आसपास लड़कों ने युवती को बेसुध हालत में बस अड्डे के पास फेंक दिया और खुद फरार हो गए. इस घटना की सबसे आश्चर्यजनक बात ये है कि कथित आरोपियों में से एक ने ही फोन कर के पीड़िता के परिजनों को यह जानकारी दी कि आपकी बेटी यहां बेसुध पड़ी हुई है. इसके बाद परिजनों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी.

अब मामला पुलिस के पास पहुंचने के बावजूद भी कोई सुनवाई नहीं हो रही. रेवाड़ी महिला पुलिस ने जीरो FIR दर्ज़ कर उसे कनीना (महेंद्रगढ़) थाने भेज दिया. कनीना थाने से भी पीड़ित परिजनों को यह कहकर वापस लौटा दिया कि यह मामला उनकी सीमा क्षेत्र से बाहर हुआ है. अब पीड़ित परिवार न्याय की दुहाई लगा रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi