S M L

बाबरी मस्जिद विध्वंस की वजह से हिंदुओं ने छोड़ा था यह मंदिर, अब मुस्लिम कर रहे देखभाल

मुस्लिमों ने पिछले 26 सालों से एक मंदिर की हिफाजत करके एक नायाब मिसाल कायम की है

Updated On: Sep 17, 2018 03:42 PM IST

FP Staff

0
बाबरी मस्जिद विध्वंस की वजह से हिंदुओं ने छोड़ा था यह मंदिर, अब मुस्लिम कर रहे देखभाल

यूपी को हमेशा हिंदू-मुस्लिम भाईचारे के प्रतीक के तौर पर माना जाता है. आपस में कई मतभेदों और झगड़ों के बावजूद यहां हिंदू-मुस्लिम एकता की कोई न कोई कहानी पूरे देश में अपनी छाप छोड़ ही जाती है.

यूपी के मुजफ्फरनगर से एक ऐसी ही कहानी सामने आयी है यहां के मुस्लिमों ने पिछले 26 सालों से एक मंदिर की हिफाजत करके एक नायाब मिसाल कायम की है. लड्डेवाली की तरफ जो सड़क जाती है वहां दो इमारतों के पास एक मंदिर है.

इस मंदिर को अयोध्या में हुए विवाद के बाद हिंदू परिवार छोड़ गए थे. लेकिन 26 साल बीत जाने के बावजूद यहां के मुस्लिमों ने इस मंदिर को बचा कर रखा है. यहां रोज साफ-सफाई की जाती है और हर साल दीपावली पर मंदिर की रंगाई-पुताई भी होती है. इतना ही नहीं आवारा जानवरों और कब्जा करने वाले लोगों से भी मुस्लिमों ने यह जगह बचा कर रखी है.

यहां के मुस्लिमों का मानना है कि सांप्रदायिक संघर्ष की वजह से जो हिंदू यह जगह छोड़कर चले गए थे, वह वापस आ जाएंगे. यहां रहने वाले हिंदुओं की मुस्लिमों से बहुत अच्छी दोस्ती थी. इसलिए अब यहां के मुस्लिम चाहते हैं कि पुराने दिन वापस आ जाएं. फिलहाल इस इलाके में 35 मुस्लिम परिवार रहते हैं. जानकारों का मानना है कि मंदिर का निर्माण 1970 के आस-पास हुआ था.

स्थानीय मुस्लिमों का कहना है कि वह इस मंदिर की देखभाल बहुत अच्छे ढंग से करते हैं. वह चाहते हैं कि हिंदू फिर से इस इलाके में वापस आ जाएं और सब पहले की तरह अच्छे से रहें. एक स्थानीय निवासी के मुताबिक मंदिर में कोई मूर्ति नहीं है क्योंकि जब हिंदू परिवार यहां से गए तो वह अपने साथ मूर्ति भी ले गए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi