S M L

प्रेमी के साथ मिलकर फिल्मी अंदाज में की थी पति की हत्या, मटन सूप ने खोला राज

फिल्मी अंदाज में अंजाम दिए गए इस जुर्म में ये दोनों सफल भी हो जाते, लेकिन एक मटन सूप की वजह से महिला के ससुराल वालों को उन पर शक हो गया और वे दोनों पकड़े गए

Updated On: Dec 13, 2017 04:57 PM IST

FP Staff

0
प्रेमी के साथ मिलकर फिल्मी अंदाज में की थी पति की हत्या, मटन सूप ने खोला राज

तेलंगाना में पुलिस ने मटन सूप की बदौलत एक सनसनीखेज मर्डर केस के मुजरिम को धर दबोचा. दरअसल एम. स्वाति नाम की महिला ने अपने प्रेमी राजेश के साथ मिलकर पहले अपने पति एम. सुधाकर रेड्डी का कत्ल कर दिया और फिर उसने अपने प्रेमी के चेहरे पर तेजाब उंडे़ल दिया, ताकि वह उसे दुनिया के सामने अपने पति के रूप में पेश कर सके.

फिल्मी अंदाज में अंजाम दिए गए इस जुर्म में ये दोनों सफल भी हो जाते, लेकिन एक मटन सूप की वजह से महिला के ससुराल वालों को उन पर शक हो गया और वे दोनों पकड़े गए.

सामने आईं रिपोर्ट्स के अनुसार, स्वाति और सुधाकर की करीब दो साल पहले शादी हुई थी, लेकिन शादी के कुछ दिनों बाद राजेश नाम के युवक के साथ स्वाति का अफेयर शुरू हो गया.

पुलिस ने बताया कि 26 नवंबर की रात सुधाकर नगरकुरनूल स्थित अपने घर पर सोया था, तभी स्वाति और राजेश ने उसे एनस्थीसिया देकर उसके सिर पर वार कर हत्या कर दी और उसकी लाश पास के जंगल में फेंक दी.

पुलिस के मुताबिक, उनका अगला कदम राजेश की शक्ल बिगाड़ना था, जिससे वह सुधाकर की जगह ले सके. इसके लिए दो दिनों बाद स्वाति ने राजेश के चेहरे पर तेजाब डाल दिया और अपने ससुराल वालों से कहा कि हैदराबाद में कुछ अंजान लोगों ने सुधाकर पर एसिड फेंक दिया, जिसमें उसका चेहरा झुलस गया.

स्वाति के ससुराल वालों ने उसकी कहानी पर यकीन कर लिया और राजेश को सुधाकर मान कर उसे इलाज के लिए हैदराबाद स्थित प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया. इन दोनों की प्लानिंग थी कि यहां राजेश की प्लास्टिक सर्जरी करा ली जाएगी, जिससे शक की कोई गुंजाइश ही न बचे.

जानकारी के मुताबिक, स्वाति के ससुराल वालों ने इस कातिल को अपना बेटा मानकर उसके इलाज में करीब 5 लाख रुपए खर्च भी कर दिए. लेकिन स्वाति की सास को अपने 'बेटे' के चाल-ढाल पर शक होने लगा. इस बीच परिवार के एक सदस्य ने राजेश को मटन सूप ऑफर किया, तो शाकाहारी होने के कारण राजेश ने उसे पीने से इनकार कर दिया.

इससे उनका शक गहराया क्योंकि सुधाकर मांसाहारी था. परिवार ने पुलिस को इसकी खबर दी. पुलिस के पूछताछ में स्वाति ने जुर्म कबूल लिया, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया. राजेश का अस्पताल में इलाज चल रहा है. इसलिए पुलिस उसके डिस्चार्ज होने का इंतजार कर रही है. इस बीच पुलिस ने जंगल से सुधाकर का शव बरादम कर लिया है. स्वाति ने कबूल किया है कि उसे इस हत्या को अंजाम देने का आइडिया तेलुगु फिल्म येवदु से मिला था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi