live
S M L

मुस्लिमों ने निकाली तिरंगा यात्रा, लगाए हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे

जुलूस में शामिल लोगों ने कासगंज हिंसा का शिकार हुए चंदन गुप्ता के लिए उचित मुआवजे और न्यायिक जांच की भी मांग की

Updated On: Feb 06, 2018 12:08 PM IST

FP Staff

0
मुस्लिमों ने निकाली तिरंगा यात्रा, लगाए हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे

उत्तर प्रदेश के आगरा में समाजिक कार्यकर्ता शबाना खंडेलवाल के नेतृत्व में सैकड़ों मुस्लिम युवाओं ने तिरंगा यात्रा निकाली. सोमवार को ये कार्यकर्ता शहीद स्मारक पर जमा हुए. कार्यकर्ताओं ने हिंदू राष्ट्र और वंदे मातरम् के नाम पर किए गए अत्याचारों की समाप्ति की भी मांग की. हालांकि उन्हें इस जुलूस को निकालने की इजाजत नहीं थी.

उन्होंने हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए और मुसलमानों को पाकिस्तानी कहने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. 'मुसलमानों के दो स्थान, पाकिस्तान और कब्रिस्तान' जैसे नारे पर प्रतिबंध लगाने और ऐसे नारे लगाने वालों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज करने की अपील की.

खंडेलवाल ने कहा कि भारतीय मुस्लिम किसी भी हिंदू के मुकाबले कम देशभक्त नहीं हैं और वो भी देश के लिए समर्पित हैं. उन्होंने कहा कि मुस्लिमों के खिलाफ देश में तिरंगे को लेकर गलत संदेश दिया जा रहा है. तिरंगा यात्रा उसी के जवाब में आयोजित की गई है कि देश के मुस्लिम इसका आदर करते हैं और इसके लिए कुछ भी कर सकते हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, खंडेलवाल ने कहा कि मुसलमानों के खिलाफ कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए और उनके अंदर के डर के माहौल को खत्म करना चाहिए. साथ ही साथ उन्होंने यह भी मांग की कि मस्जिदों और मदरसों को सरकार द्वारा सुरक्षा प्रदान की जानी चाहिए.

इस तिरंगा जुलूस में हिस्सा ले रहे आगरा शहर मुफ्ती, मुदस्सर खान ने कहा कि मुसलमानों ने स्वतंत्रता संग्राम के दौरान बहुत बलिदान किए हैं और उनका इस देश पर समान अधिकार है. उन्होंने कहा कि सिर्फ धर्म के आधार पर उन्हें गौ-हत्या और लव-जेहाद के आरोप में गतल तौर पर नहीं फंसाना चाहिए. जुलूस में शामिल लोगों ने कासगंज हिंसा का शिकार हुए चंदन गुप्ता के लिए उचित मुआवजे और न्यायिक जांच की भी मांग की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi