S M L

मुंबई विमान हादसा: लंच टाइम होने के कारण बच गई 40 श्रमिकों की जान

हादसे के समय श्रमिक भोजन के लिए वहां से चले गए थे, नहीं तो इस घटना में हताहतों की संख्या और अधिक हो सकती थी

Bhasha Updated On: Jun 29, 2018 07:37 PM IST

0
मुंबई विमान हादसा: लंच टाइम होने के कारण बच गई 40 श्रमिकों की जान

मुंबई के घाटकोपर इलाके में एक निर्माणाधीन इमारत पर गुरुवार को चार्टर्ड विमान के गिरने की घटना में 40 श्रमिक बाल-बाल बच गए क्योंकि वे लोग हादसे से कुछ ही मिनट पहले भोजनावकाश पर गए थे.

मुंबई में गुरुवार दोपहर बाद एक बजकर 11 मिनट पर किंग एयर सी 90 विमान दुर्घटनाग्रस्त होकर भीड़भाड़ वाले इलाके में निर्माणधीन इमारत पर गिर गया था. इस हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई थी. मरने वालों में चालक दल के चार सदस्य और एक राहगीर शामिल हैं.

हादसे के समय श्रमिक भोजन के लिए वहां से चले गए थे. नहीं तो इस घटना में हताहतों की संख्या और अधिक हो सकती थी. घटना में तीन श्रमिक मामूली रूप से घायल हुए थे और उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

जलता हुआ टुकड़ा गिरा और विस्फोट की आवाज सुनाई दी

श्रमिक नरेश निषाद ने बताया कि हम लोग बाल-बाल बच गए क्योंकि हम मौके पर मौजूद नहीं थे, नहीं तो हमारा भी वही हाल होता. छत्तीसगढ़ के रहने वाले निषाद ने कहा कि मुझे नहीं पता कि यह विमान कहां से आ रहा था. मैंने देखा कि कुछ जलता टुकड़ा मेरी तरफ आ रहा था और विस्फोट की आवाज सुनाई दी.

एक अन्य श्रमिक ने बताया कि उस वक्त वहां हल्की बारिश हो रही थी जिससे हमें दोपहर के भोजन के लिए छिपना पड़ा. हम उसी परिसर में बन रही एक अन्य इमारत में गए. लेकिन , आम तौर पर हम दोपहर का भोजन वहीं करते थे जहां हादसा हुआ.

इलाहाबाद के एक अन्य श्रमिक लवकुश ने बताया कि सबकुछ सामान्य था और अचानक पूरा परिसर धुआं और आग की लपटों से भर गया. मैं भाग्यशाली हूं कि मैं वहां उपस्थित नहीं था...और यही कारण है कि मैं आज जिंदा हूं. पुलिस अधिकारियों ने भी इस बात से सहमति जताई कि भोजनावकाश के कारण कुछ लोगों की जान बच गई.

यह विमान पहले उत्तर प्रदेश सरकार का था और बाद में यूवाई एविएशन नामक एक निजी कंपनी को बेच दिया गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi