S M L

34 जिंदगियां निगल गई इमारत, बीएमसी के पास है कोई जवाब?

गुरुवार को भिंडी बाजार इलाके में सात मंजिला बिल्डिंग गिर गई थी. जिसमें अबतक 34 लोगों की मौत हो चुकी है. जानकारी के मुताबिक बिल्डिंग करीब 110 साल पुरानी थी

Updated On: Sep 01, 2017 11:12 AM IST

FP Staff

0
34 जिंदगियां निगल गई इमारत, बीएमसी के पास है कोई जवाब?

मुंबई में बारिश का कहर लगातार जारी है. गुरुवार को बारिश के चलते मुंबई के भिंडी बाजार में एक सात मंजिला इमारत गिर गई थी. ऐसा बताया जा रहा था कि यह इमारत करीब 110 साल पुरानी थी.

बिल्डिंग गिरने से अबतक 34 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि 15 लोग घायल हो गए हैं. मुंबई में कई इमारते ऐसी हैं जो बीएमसी ने रहने के लिए असुरक्षित घोषित की हैं. बावजूद इसके बीएमसी ने इन इमारतों को खाली नहीं कराया.

कौन से इलाके में सबसे ज्यादा असुरक्षित बिल्डिंग हैं

मुंबई मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक कुर्ला में सबसे ज्यादा ऐसी बिल्डिंग हैं जो रहने के हिसाब से सुरक्षित नहीं हैं. कुर्ला में करीब 113 बिल्डिंग हैं जो रहने के लिए सुरक्षित नहीं है. वहीं घाटकोपर में 80 और वडाला/माटुंगा में 77 बिल्डिंग खतरे के निशान पर हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक सबसे ज्यादा ध्वस्त हुई बिल्डिंगों की संख्या L वार्ड और कुर्ला (113) में है. N वार्ड या घाटकोपर में 80 बिल्डिंग C-1 कैटेगरी की हैं. जिसमें से सिर्फ दो ही बिल्डिंगों को धाराशायी किया गया है. जबकि 19 बिल्डिंग खाली कराई गई थीं. पश्चिमी मुंबई के अंधेरी (वेस्ट) और के/वेस्ट वार्ड में 50 बिल्डिंग C-1 कैटेगरी में हैं. 30 साल से ज्यादा पुरानी बिल्डिंगों के लिए डिजाइन-संबंधी ऑडिट अनिवार्य है.

इससे पहले 2013 में मुंबई के डॉकयार्ड में 32 साल पुरानी बिल्डिंग गिरने से 61 लोगों की मौत हो गई थी. जबकि 32 लोग घायल हो गए थे. यह पांच मंजिला इमारत बीएमसी के अधीन थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi