S M L

देखते-देखते कूड़े का पहाड़ बन गया है माउंट एवरेस्ट...

दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत माउंट एवरेस्ट तक कूड़े का ढेर जमा होने लग गया है. ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने अप्रैल में एवरेस्ट से 8.5 टन कूड़ा साफ किया है

FP Staff Updated On: Jun 01, 2018 04:32 PM IST

0
देखते-देखते कूड़े का पहाड़ बन गया है माउंट एवरेस्ट...

दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत माउंट एवरेस्ट तक कूड़े का ढेर जमा होने लग गया है. ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने अप्रैल में एवरेस्ट से 8.5 टन कूड़ा साफ किया है. हर साल एवरेस्ट पर फतह पाने के लिए दुनिया भर से लोग आते हैं और इस दौरान वो इस साफ सुथरी जगह पर खूब कूड़ा भी फैलाते हैं.

30 लोगों की टीम ने एवरेस्ट से 5.2 कचड़ा, 2.3 टन मानव मल और पर्वतारोही द्वारा फैलाया जाने वाला एक टन कचड़ा साफ किया है. पिछले सीजन के दौरान मार्च से मई के महीने में 200 से ज्यादा पर्वतारोहियों ने तिब्बत की ओर से और 446 लोगों ने नेपाल की ओर से एवरेस्ट पर चढ़ाई की. जब कि हजारों की संख्या में टूरिस्टों ने कैंपिंग की.

2015 से तिब्बत के अधिकारी हर एक पर्वतारोही को कम से कम आठ किलो कूड़ा साफ करने के लिए दो कूड़े के बैग दे रहे हैं और अगर वो इससे कम कूड़ा लाते हैं तो उन पर प्रति किलो के हिसाब से 100 डॉलर का जुर्माना भी लगाया जा रहा है. आपको बता दें कि नेपाल इस तरह के नियम का 2014 से पालन कर रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi