S M L

'मुझे अंदर नहीं जाने दिया, कहा प्रे करो बच्चा ठीक हो जाए': प्रद्युम्‍न की मां

प्रद्युम्‍न की मां ज्योति ठाकुर ने कहा कि स्कूल के अंदर की बात कोई नहीं बताता था

Updated On: Sep 11, 2017 04:30 PM IST

FP Staff

0
'मुझे अंदर नहीं जाने दिया, कहा प्रे करो बच्चा ठीक हो जाए': प्रद्युम्‍न की मां

रायन इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के मासूम की मौत के बाद उसका पूरा परिवार शोक में डूबा हुआ है. प्रद्युम्न की मां का रो-रोकर बुरा हाल है तो उसके पापा अपने बेटे को न्याय दिलाने के लिए कोर्ट कचहरी के चक्कर काट रहे हैं. मां ज्योति ठाकुर ने बताया कि 8 सितंबर की सुबह उनके साथ क्या हुआ? कैसे बेटे के स्कूल से आए एक फोनकॉल ने उनकी जिंदगी बदल दी?

प्रद्युम्‍न की मां ने बताया, 'मेरे पति बच्चों को स्कूल छोड़कर घर पहुंचे ही थे कि हमें फोन आया कि बच्चा बाथरूम में गिरा है, बेहोश हो गया है. उसे काफी ब्लीडिंग हो रही है. हॉस्पिटल लेकर जा रहे हैं. हम भागकर अस्पताल गए. मैं गई तो अंदर जाने नहीं दिया गया. मैडम ने कहा कि प्रे करो कि बच्चा ठीक हो जाएगा. जब मुझसे नहीं रहा गया तो मैं भागकर अंदर गई. मुझे लगा कि मेरा बच्चा सो रहा है, उसके पापा उसका पैर पकड़कर रो रहे थे. मैं तब भी समझ नहीं पाई. मैं बस प्रार्थना कर रही थी कि मेरा बच्चा ठीक हो जाए.'

प्रद्युम्‍न की मां ज्योति ठाकुर ने कहा कि स्कूल के अंदर की बात कोई नहीं बताता था. सभी यही कहते थे कि बहुत सिक्योरिटी है. हमें यही लगता था कि हमारे बच्चे सुरक्षित हैं.

[न्यूज़ 18 इंडिया से साभार]

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi