S M L

2016 में सबसे ज्यादा नक्सलियों ने किया सरेंडर: केंद्र

2016 में रिकॉर्ड 1,422 नक्सलियों ने किया है समर्पण

Updated On: Mar 22, 2017 11:25 PM IST

FP Staff

0
2016 में सबसे ज्यादा नक्सलियों ने किया सरेंडर: केंद्र

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि सरकार की रीहैबिलिटेशन नीतियों के तहत 2016 में रिकॉर्ड 1,422 नक्सलियों ने सरेंडर किया. यह संख्या 2015 की तुलना में दोगुनी है.

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज गंगाराम अहीर ने राज्यसभा में एक लिखित जवाब में कहा कि राज्य सरकारों के पास नक्सलियों को मुख्यधारा में लाने के लिए सरेंडर और पुनर्वास की अपनी प्रोत्साहन राशि है और केंद्र सरकार उन दावों का भुगतान करती है.

2.5 लाख रुपए खर्च होते हैं बड़े नक्सलियों पर

अहीर ने कहा, 'नक्सली कार्यकर्ताओं के सरेंडर पर सुरक्षा संबंधित खर्च योजना के तहत धनराशि खर्च की गई. बड़े नक्सलियों पर सरकार 2.5 लाख रुपए और मध्यम दर्जे और छोटे नक्सलियों पर 1.5 लाख रुपये खर्च करती है.'

केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा, 'जो लोग हथियारों और कारतूसों के साथ सरेंडर करते हैं, उन्हें 10,000 रुपए और 35,000 रुपए के बीच अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि दी जाती है. प्रोत्साहन राशि हथियारों की किस्म पर निर्भर करती है.'

मंत्री ने कहा कि इसके अतिरिक्त सरेंडर करने वाले प्रत्येक नक्सली को प्रति माह 4,000 रुपये मानराशि के रूप में दिया जाता है. 'यह मानधन व्यावसायिक प्रशिक्षण के लिए अधिकतम 36 माह तक प्रदान किया जाता है.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi