S M L

क्यों खास है 'पीएम मोदी का पसंदीदा' दुनिया का सबसे महंगा मशरूम

जिस मशरूम की कीमत लाखों में जाती है उसे खाने का तरीका भी अलग है

Updated On: Dec 13, 2017 01:16 PM IST

FP Staff

0
क्यों खास है 'पीएम मोदी का पसंदीदा' दुनिया का सबसे महंगा मशरूम

गुजरात में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन अल्पेश ठाकोर का एक बयान सुर्खियां बन गया. अल्पेश ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी दिन में 5 मशरूम खाते हैं और एक मशरूम की कीमत 80,000 रुपए होती है. अल्पेश ने ये भी कहा कि इन मशरूम की वजह से ही पीएम का रंग गोरा हो गया है.

हिंदुस्तान में धर्म और राजनीति में अक्सर खाने की थाली शामिल हो जाती है. इस देश में किसी के खाने की आदतों से उसकी परवरिश, जाति, धर्म का अंदाज़ा भी लगाया जा सकता है. राजनीति को छोड़ दीजिए, खाने की बात करते हैं. तो क्या 80,000 का एक मशरूम होता है? यदि हां तो उसकी खासियत क्या है.

मशरूम एक तरह की कवक (फंगस) है. दुनिया की सबसे महंगा फूड आइटम 'यूरोपियन ट्रफल' है. ये देखने में मोटे छिलके के खुरदुरे आलू जैसा होता है. ट्रफल में तेज महक होती है. ये सैकड़ों साल पुराने ओक के पेड़ की जड़ों के आसपास पाए जाते हैं. इनकी कीमत लगभग 7-8 लाख रुपए किलो तक होती है. इसके चलते इनकी तस्करी भी आम है. कुच समय पहले एक किलो का एक ट्रफल 20 लाख रुपए से ज्यादा में बिका था. ट्रफल उगाया नहीं जाता, अपने आप निकलता है. ट्रफल सामान्य मशरूम की तरह पकाया भी नहीं जाता. इसे घिसकर खाने में ऊपर से मिलाया जाता है.

ट्रफल को पकाकर नहीं खाया जाता ऊपर से मिलाया जाता है

ट्रफल को पकाकर नहीं खाया जाता ऊपर से मिलाया जाता है

ट्रफल को आम बोलचाल की भाषा में मशरूम कह दिया जाता है. मगर तकनीकी रूप से ये मशरूम नहीं है. दुनिया का सबसे महंगा मशरूम माटसुटेक है जिसकी कीमत लगभग 1.5 लाख प्रति किलो तक होती है.

नरेंद्र मोदी का प्रिय मशरूम

इसी तरह से भारत में उच्च और मध्य हिमालय (उत्तराखंड, हिमाचल और कश्मीर) में गुच्छी मशरूम भी पाया जाता है. एक बार खुद नरेंद्र मोदी बता चुके हैं कि उन्हें ये गुच्छी मशरूम बहुत पसंद है. ये आमतौर पर 10,000 से 30,000 रुपए किलो के बीच बिकता है. इसे भी उगाया नहीं जाता, ये खुद ही उगता है.

कैवियर भी दुनिया के सबसे महंगे भोजन में है

कैवियर भी दुनिया के सबसे महंगे भोजन में है

मशरूम के अलावा कैवियर (एक तरह की मछली के अंडे) भी दुनिया के सबसे महंगे फूड आइटम में है. इसकी कीमत 5 से 7 लाख प्रति किलो तक होती है. उम्दा क्वॉलिटी की केसर, जापान के चौकोर तरबूज भी ऐसे ही फूड आइटम हैं जिनकी कीमत लाखों रुपए किलो होती है. बाकी महंगे रेस्टोरेंट खाने की चीज़ों पर सोने का वर्क वगैरह लगाकर उन्हें महंगा कर देते हैं.

वैसे रोज मशरूम खाने की बात करें तो मशरूम पोटेशियम और दूसरे मिनिरल्स का अच्छा सोर्स हैं. आप के घर के पास मिलने वाला बटन मशरूम कैंसर से लड़ने में मदद करता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi