S M L

दिल्ली में हर दिन 5 से ज्यादा महिलाओं से बलात्कार

पुलिस का मानना है कि मामलों की संख्या इसलिए बढ़ी है क्योंकि पहले से ज्यादा मामले दर्ज हो रहे हैं

FP Staff Updated On: May 06, 2018 04:03 PM IST

0
दिल्ली में हर दिन 5 से ज्यादा महिलाओं से बलात्कार

देश की राजधानी दिल्ली में पिछले साढ़े तीन साल में हर दिन 5 से ज्यादा महिलाओं के साथ बलात्कार हुआ. दिल्ली पुलिस के आंकड़ों से यह बात स्पष्ट हुई है.

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट में दिल्ली पुलिस का दावा है कि पिछले एक साल में जितने मामले दर्ज किए गए उनमें 96.63 प्रतिशत केस में आरोपी पीड़िता को जानता था. आकड़ों के मुताबिक, इस साल 15 अप्रैल तक 578 मामले दर्ज किए गए जबकि साल 2017 की इसी अवधि में 563 केस दर्ज किए गए थे.

पुलिस का मानना है कि मामलों की संख्या इसलिए बढ़ी है क्योंकि पहले से ज्यादा मामले दर्ज हो रहे हैं. हालांकि आंकड़े यह भी बताते हैं कि इस साल यौन उत्पीड़न की घटनाओं में कमी आई है.

साल 2017 में 15 अप्रैल तक 944 यौन उत्पीड़न की घटनाएं प्रकाश में आईं. जबकि इस साल इसी अवधि में 883 घटनाएं सामने आईं.

साल 2017 में कुल 2049 बलात्कार की घटनाएं हुईं. 2016 में यह संख्या 2064 रही. दिल्ली पुलिस के आंकड़े बताते हैं कि पिछले साल 3273 बलात्कार की घटनाएं हुईं, जबकि 2016 में यह संख्या 4035 के आसपास थी.

उधर सुप्रीम कोर्ट ने दिसंबर, 2012 के सनसनीखेज सामूहिक बलात्कार और हत्याकांड में मौत की सजा पाए मुजरिमों में से दो दोषियों की पुनर्विचार याचिकाओं पर सुनवाई पूरी कर ली है. कोर्ट इन पर अपना फैसला बाद में सुनाएगा.

इस मामले में दोषी विनय शर्मा और पवन गुप्ता ने कोर्ट से उनकी मौत की सजा बरकरार रखने वाले मई 2017 के फैसले पर पुनर्विचार का अनुरोध किया है. शीर्ष अदालत ने अपने फैसले में 23 साल की छात्रा से सामूहिक बलात्कार करने और उसकी हत्या के जुर्म में चार दोषियों - मुकेश, पवन, विनय शर्मा और अक्षम कुमार सिंह को मौत की सजा सुनाने के फैसले को बरकरार रखा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi