S M L

देश में 4 लाख से भी अधिक भिखारी, जानिए कहां है सबसे ज्यादा संख्या

सामाजिक न्याय मंत्री थावर चंद गहलोत ने लोकसभा में बताया कि देश में 4 लाख से अधिक भिखारी हैं

FP Staff Updated On: Mar 21, 2018 12:15 PM IST

0
देश में 4 लाख से भी अधिक भिखारी, जानिए कहां है सबसे ज्यादा संख्या

सामाजिक न्याय मंत्री थावर चंद गहलोत ने बताया है कि देश में 4 लाख से भी अधिक भिखारी हैं, जिनमें सबसे ज्यादा 81,000 हजार भिखारी पश्चिम बंगाल में हैं और सबसे कम भिखारी के मामले में लक्षद्वीप है, जहां मात्र 2 भिखारी हैं.

लोकसभा में एक लिखित प्रश्न का उत्तर देते हुए सामाजिक न्याय मंत्री थावर चंद गहलोत ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि जनसंख्या सर्वेक्षण 2011 में इकट्ठे गए आंकड़ों के आधार पर पर जानकारी मुहैया कराई गई है.

2011 की जनगणना के अनुसार भारत में कुल 4 लाख 13 हजार 670 भिखारी हैं, जिसमें से 2 लाख 21 हजार 673 पुरुष और 1 लाख 91 हजार 997 महिलाएं हैं.

देशभर में पश्चिम बंगाल में भिखारियों की संख्या सबसे ज्यादा है. यहां पर 81 हजार 224 भिखारी हैं. इसके बाद नंबर आता है उत्तर प्रदेश का जहां 65 हजार 835 भिखारी है. तीसरे नंबर पर बिहार है जहां 29 हजार 723 भिखारी है. मध्य प्रदेश में 28 हजार 695 भिखारी हैं.

पूर्वोत्तर के राज्यों में भिखारियों की संख्या असम में सबसे ज्यादा है और मिजोरम में सबसे कम. दक्षिण के राज्यों में सबसे कम भिखारी केरल में हैं तो सबसे ज्यादा भिखारी आंध्र प्रदेश में.

इस आंकड़े के मुताबिक, पश्चिम बंगाल सहित असम और मणिपुर जैसे राज्यों में पुरुष भिखारियों के मुकाबले महिला भिखारियों की संख्या ज्यादा है.

केंद्र शासित प्रदेशों में सबसे अधिक भिखारी राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हैं. दिल्ली में कुल 2187 भिखारी हैं, जबकि चंडीगढ़ में कुल 121.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi