S M L

मां ने प्रेमी संग मिलकर 6 साल की मासूम को उतारा मौत के घाट

बच्ची की मां ने पुलिस को जांच में उलझाने के लिए उसकी हत्या में तांत्रिकों के शामिल होने की बात भी कही

FP Staff Updated On: Dec 15, 2017 07:46 PM IST

0
मां ने प्रेमी संग मिलकर 6 साल की मासूम को उतारा मौत के घाट

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के गाजीपुर इलाके में एक मां ने अपनी 6 साल की बच्ची को मौत के घाट उतार दिया. बच्ची का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने मां को प्रेमी के साथ देख लिया था. बच्ची की मां ने पुलिस को जांच में उलझाने के लिए उसकी हत्या में तांत्रिकों के शामिल होने की बात भी कही.

पुलिस ने बताया कि बुधवार रात को एक परिवार ने 6 साल की बच्ची काजल के गुम हो जाने की सूचना दी. इसके बाद पुलिस ने एक टीम गठित कर जांच शुरू की और वाट्सएप के माध्यम से बच्ची के फोटो को सर्कुलेट किया जिससे जल्द से जल्द जानकारी मिल सके. पुलिस ने घर-घर जाकर भी बच्ची को खोजा लेकिन पुलिस की मेहनत तब समाप्त हुई जब घर से सटे छत पर बच्ची के शव को बरामद किया गया.

बच्ची का गला काटा गया था. यह देख कर बच्ची की मां मुन्नी देवी (30 साल) बेहद परेशान हो गई. मुन्नी ने पुलिस से कहा कि वह घर अपने पति के साथ घर पर थी और रोज की तरह काजल दो और बच्चियों के साथ खेलने गई थी. लेकिन देर रात तक जब वह नहीं लौटी तब हमने उसे खोजना शुरू किया.

पुलिस को बरगलाने के लिए मां ने बोला झूठ

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक मुन्नी देवी ने पुलिस को बताया कि जब मैंने उसके दोस्तों से पूछा तो उनलोगों ने कहा कि हमलोगों ने उसे एक घोस्ट की तरफ जाते देखा और उसके बाद वो खेलने के लिए नहीं लौटी.

मुन्नी देवी ने कहा कि जब मैंने अपनी बच्ची के शरीर को देखा तभी मुझे यकीन हो गया कि उसके ऊपर किसी ने काला जादू किया है. जिस तरह से उसके गले को काटा गया है वो सिर्फ कोई तांत्रिक ही कर सकता है. यह ऐसी बात थी जिस पर एक हद तक यकीन किया जा सकता था. लेकिन जब पुलिस मुन्नी से पूछताछ करनी शुरू की तो वह संतुष्ट करने लायक जवाब नहीं दे पाई. गुरुवार सुबह तक उसने अपना गुनाह कुबूल कर लिया.

डीसीपी (पूर्व) ओमवीर सिंह ने कहा कि कुछ ही घंटों में इस केस को हल कर लिया गया और मुन्नी देवी के साथ-साथ एक आदमी को गिरफ्तार कर लिया गया.

बच्ची ने मां को प्रेमी के संग देख लिया था

मुन्नी देवी ने इस पूरे मामले को पुलिस से बताते हुए कहा कि काजल छत पर खेल रही थी तभी उसने मुझे एक आदमी के साथ बांहों में बांहें डाल बैठे देख लिया. मुन्नी के साथ बैठा हुआ शख्स सुधीर (22 साल) था जो उसका प्रेमी है.

हम लोग को इस हालत में देखकर काजल इस बात को बताने के लिए पिता की तरफ दौड़ी लेकिन उसकी मां ने उसे पकड़ लिया. मुन्नी अपनी बेटी को लेकर छत पर आई. उसने काजल को ये सब किसी से नहीं कहने के लिए मनाने लगी लेकिन वह नहीं मानी.

फिर मुन्नी ने सुधीर से पूछा कि क्या किया जाए जिससे काजल हमारे संबंधों के बारे में अपने पिता को न बताए. इसके बाद दोनों ने तय किया कि काजल को हमेशा के लिए चूप कर दिया जाए. मुन्नी और सुधीर काजल को पकड़ कर बगल के छत पर ले गए और चाकू से उसके गले को काट मौत के घाट उतार दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi