विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

पीएम मोदी के 'मन की बात' पर लिखी गई किताब, शिंजो आबे ने दी प्रस्तावना

26 मई को बीजेपी सरकार के तीन साल पूरे होने वाले हैं

FP Staff Updated On: May 24, 2017 12:24 PM IST

0
पीएम मोदी के 'मन की बात' पर लिखी गई किताब, शिंजो आबे ने दी प्रस्तावना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'मन की बात' कार्यक्रम से तो हम वाकिफ हैं लेकिन अब इस कार्यक्रम पर जल्द ही एक किताब भी आने वाली है.

26 मई को बीजेपी सरकार के तीन साल पूरे होने वाले हैं और इस मौके पर एक किताब के जरिए 'मन की बात' के शुरू होने और आगे बढ़ने की कहानी का अनावरण किया जाएगा. इस अवसर पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और वित्त मंत्री अरुण जेटली मौजूद होंगे.

किताब की खास बात ये भी है कि जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने इस किताब 'मन की बात- अ सोशल रेवोल्यूशन ऑन रेडियो' की प्रस्तावना लिखी है. इस किताब को राष्ट्रपति को प्रस्तुत किया जाएगा.

अबे ने प्रस्तावना में लिखा है कि प्रधानमंत्री पद की चुनौतियों को संभालते हुए हर महीने एक बार एक घंटे का शो करने के लिए बहुत जबरदस्त प्रयासों की जरूरत होती है. और लोगों से बातचीत करने के उनके जुनून को महसूस कर सकता हूं.

कैसे तय हुआ नाम

किताब में ये भी बताया गया है कि कैसे शो का नाम रखा गया और पीएम मोदी से सामान्य बातचीत में ये नाम निकलकर आया. इससे पहले 'पीएम के साथ रू-ब-रू', 'वार्ता मोदी जी के साथ' और 'मोदी वाणी' जैसे कुछ और नामों पर विचार किया गया था.

इस किताब में इस शो को सुनने वालों के चिट्ठियां भी दिए गए हैं. किताब में पीएम मोदी बताते हैं कि वह सभी चिट्ठियां नहीं पढ़ पाते क्योंकि बहुत बड़ी संख्या में चिट्ठियां आती हैं. लेकिन, जो भी वो पढ़ते हैं उसका एक-एक शब्द पढ़ते हैं.

पीएम मोदी ने रेडियो को ही बातचीत का माध्यम क्यों चुना इस पर वो कहते हैं, 'मैं एक जीवनभर एक सर्वोत्कृष्ट संगठन का हिस्सा रहा हूं. मैं जानता हूं कि एक रेडियो क्या कर सकता है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने भी इसका बहुत अच्छा इस्तेमाल किया था.'

(साभार- न्यूज 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi