S M L

कर्ज देकर लोगों को आत्मनिर्भर बनाना चाहती है मोदी सरकार: वित्त राज्य मंत्री

उवित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया है

Bhasha Updated On: Jul 29, 2018 06:29 PM IST

0
कर्ज देकर लोगों को आत्मनिर्भर बनाना चाहती है मोदी सरकार: वित्त राज्य मंत्री

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने हर साल दो करोड़ लोगों को रोजगार देने के नरेंद्र मोदी सरकार के वादे का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार लोगों को कर्ज देकर आत्मनिर्भर बनाने की इच्छुक है और प्रधानमंत्री की इच्छा है कि लोग उद्यमी बनकर दूसरों को नौकरी दें.

शुक्ल ने रविवार को ग्रामीण बैंक द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि प्रधानमंत्री ने 2014 के लोकसभा चुनाव में हर साल दो करोड़ लोगों को रोजगार देने की बात कहीं, तो विपक्ष के लोग सवाल पूछने लगे.

दरअसल, केंद्र सरकार अनुसूचित जाति, जनजाति के लोगों और कमजोर वर्ग की महिलाओं को ऋण देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाना चाहती है. प्रधानमंत्री की इच्छा है कि लोग उद्यमी बनें और लोगों को खुद नौकरी दें.

11 हजार से ज्यादा लोगों को मिला 204 करोड़ रुपए का लोन

उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया है. स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए सरकार ने हाल में ही ठोस कदम उठाए हैं. मोदी सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुनी कर देगी. इसी क्रम में रविवार तो ग्रामीण बैंक की ओर से 11 हजार से अधिक लाभार्थियों को 204 करोड़ रुपए का ऋण वितरित किया जा रहा है.

शुक्ल ने कहा कि केंद्र में सत्ता संभालने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने समाज के दबे-कुचले और कमजोर वर्ग के लोगों से बिना पैसे के बैंक में खाता खुलवाने की अपील की तो विपक्षी पार्टियों ने उनका मजाक उड़ाया. आज उन्हीं 36 करोड़ जनधन खातों में अब तक 87,000 करोड़ रुपए से अधिक जमा हो चुके हैं, जो देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश में सुशासन का परिणाम है कि भारत विकास के मामले में विश्व में सातवें नंबर पर आ गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi