S M L

कलबुर्गी हत्याकांड: SIT जांच की मांग वाली याचिका पर केंद्र सरकार को नोटिस

उमादेवी ने एम एम कलबुर्गी, गोविंद पंसारे और नरेंद्र दाभोलकर की हत्या करने के तरीके में समानता की बात भी सुप्रीम कोर्ट में कही

Updated On: Jan 10, 2018 02:37 PM IST

FP Staff

0
कलबुर्गी हत्याकांड: SIT जांच की मांग वाली याचिका पर केंद्र सरकार को नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने जाने-माने लेखक और तर्कवादी एमएम कलबुर्गी हत्याकांड में केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है. इस मामले में केंद्र सरकार के साथ ही मामले की जांच करने वाली एजेंसियों एनआईए और सीबीआई के साथ महाराष्ट्र और कर्नाटक राज्य की सरकारों को नोटिस जारी किया गया है.

दरअसल इस मामले में कलबुर्गी की पत्नी उमादेवी कलबुर्गी ने याचिका दायर करके एसआईटी जांच की मांग की थी. बता दें कि अगस्त 2015 में कन्नड़ विद्वान और शोधकर्ता एम एम कलबुर्गी की उनके आवास पर ही दो अज्ञात लोगों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी.

कन्नड़ अखबारों के मुताबिक प्राचीन कन्नड़ साहित्य के स्पष्टवादी विद्वान माने जाने वाले कलबुर्गी, मूर्तिपूजा और लिंगायत समुदाय के खिलाफ लिखने के बाद से ही दक्षिणपंथी हिंदू संगठनों के निशाने पर आ गए थे.

उमादेवी ने एम एम कलबुर्गी, गोविंद पंसारे और नरेंद्र दाभोलकर की हत्या करने के तरीके में समानता की बात भी सुप्रीम कोर्ट में कही.

प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति एएम खानविलकर और न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ की पीठ ने नोटिस दी है. याचिका में आरोप लगाया गया है कि उनके पति की हत्या के मामले में अब तक कोई ठोस जांच नहीं की गई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi