S M L

'हिंदुओं को पंजाब और जम्मू-कश्मीर में अल्पसंख्यक का दर्जा नहीं'

देश के सात राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई जल्द

Updated On: May 27, 2018 01:29 PM IST

Bhasha

0
'हिंदुओं को पंजाब और जम्मू-कश्मीर में अल्पसंख्यक का दर्जा नहीं'

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सैयद गैयरुल हसन रिजवी ने कहा कि मौजूदा कानूनी प्रावधानों के तहत देश के 7 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हिंदुओं को धार्मिक अल्पसंख्यक का दर्जा नहीं दिया जा सकता.

दरअसल, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, मिजोरम, मणिपुर, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और लक्षद्वीप के हिंदुओं को अल्पसंख्यक वर्ग का दर्जा दिए जाने की मांग वाली याचिका पर 14 जून को आयोग की 3 सदस्यों वाली उप-समिति सुनवाई करेगी. रिजवी ने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट के कहने के बाद हमने उप समिति बनाई. यह उप समिति 14 जून को याचिकाकर्ता का पक्ष सुनेगी. उनका पक्ष सुनने के बाद हम अपनी रिपोर्ट शीर्ष अदालत को भेजेंगे.’

यह पूछे जाने पर कि क्या मौजूदा कानूनी प्रावधानों के तहत इन राज्यों में हिंदुओं को धार्मिक अल्पसंख्यक का दर्जा देना संभव है, उन्होंने कहा, ‘राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग अधिनियम-1992 के तहत 5 समुदायों- मुस्लिम, ईसाई, सिख, बौद्ध और पारसी को धार्मिक अल्पसंख्यक कहा गया. 2014 में इसमें जैन समुदाय को भी शामिल किया गया. धार्मिक अल्पसंख्यक वर्ग का निर्धारण राष्ट्रीय स्तर पर होता है.’

उन्होंने कर्नाटक सरकार की ओर से हाल ही में लिंगायतों को अल्पसंख्यक का दर्जा दिए जाने की सिफारिश किए जाने का हवाला दिया और कहा, ‘मौजूदा कानूनी प्रावधान में संभव होता तो लिंगायतों को धार्मिक अल्पसंख्यक का दर्जा मिल गया होता.’

बता दें कि बीजेपी नेता और वकील अश्विनी उपाध्याय ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर देश के 8 राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक दर्जा दिए जाने की मांग की थी. बाद में कोर्ट ने उनसे कहा था कि वह अल्पसंख्यक आयोग का रुख करें. उपाध्याय का कहना है कि इन 8 राज्यों में हिंदू अल्पसंख्यक हैं, ऐसे में इन राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यकों वाले अधिकार मिलने चाहिए.

गौरतलब है कि 2011 की जनगणना के अनुसार लक्षद्वीप में 2.5, मिजोरम में 2.75, नागालैंड में 8.75, मेघालय में 11.53, जम्मू-कश्मीर में 28.44, अरुणाचल प्रदेश में 29, मणिपुर में 31.39 और पंजाब में 38.40 प्रतिशत हिंदू हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi