S M L

रक्षा मंत्रालय ने कहा हैक हुई वेबसाइट, साइबर सुरक्षा ने नकारा

रक्षा मंत्रालय के आधिकारिक वेबसाइट पर कुछ चीनी शब्द दिखे जिससे चीनी हैकरों की मिलीभगत का इशारा मिला था

FP Staff Updated On: Apr 07, 2018 10:05 AM IST

0
रक्षा मंत्रालय ने कहा हैक हुई वेबसाइट, साइबर सुरक्षा ने नकारा

रक्षा और गृह मंत्रालय समेत अलग-अलग सरकारी विभागों की दर्जन भर से अधिक वेबसाइट शुक्रवार को ठप रहीं. इसके लिए हैकिंग को जिम्मेदार ठहराया गया लेकिन राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा प्रमुख ने कहा कि ऐसा तकनीकी गड़बड़ी की वजह से हुआ. अधिकारियों ने शुक्रवार रात बताया कि प्रभावित वेबसाइटों की गड़बड़ियां दूर करने की कोशिश चल रही है.

सरकारी वेबसाइटों में लोगों को गड़बड़ी वाले मैसेज नजर आने के बाद साइबर सुरक्षा के राष्ट्रीय समन्वयक गुलशन राय ने कहा कि उनमें हार्डवेयर की खराबी का पता चला है. राष्ट्रीय सूचना केंद्र इन वेबसाइटों के सर्वरों का कामकाज संभालता है.

राय का बयान रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के ट्वीट से अलग है. सीतारमण ने पहले ट्वीट कर कहा था कि यह हैकिंग है. उन्होंने ट्वीट किया था, ‘रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट http://mod.nic.in के हैक होने के बाद कार्रवाई की जा रही है. वेबसाइट को जल्द बहाल किया जाएगा. यह कहने की जरूरत नहीं है कि आगे इस तरह की घटना को रोकने के सभी जरूरी उपाय किए जाएंगे.’

शुक्रवार को रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘मामले पर हमारी पैनी नजर है. राष्ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी) उसे बहाल करने की कोशिश कर रहा है.’ प्रवक्ता ने दावा किया था कि वेबसाइट पर कुछ चीनी शब्द दिखे जो चीनी हैकरों की मिलीभगत की ओर इशारा करते हैं.

हालांकि सीतारमण के ट्वीट के कुछ घंटे बाद एनआईसी ने ट्वीट कर कहा कि वेबसाइट हैक नहीं हुई.

एनआईसी ने भी ट्वीट कर यह सफाई भी दी कि रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट पर जो चीनी शब्द नजर आ रहे थे वह प्रबंधन सॉफ्टवेयर द्रुपल का ‘डिफॉल्ट लोगो’ था.

वेबसाइटों में आ रही गड़बड़ी के बारे में राय ने कहा कि यह शुक्रवार दोपहर से बंद है. स्टोरेज एरिया नेटवर्किंग सिस्टम की गड़बड़ी के चलते इन वेबसाइटों में परेशानी आ रही है. राय ने कहा कि इसे दूर किया जा रहा है. यह सिर्फ हार्डवेयर के फेल होने का मामला है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi