S M L

गोवा हवाईअड्डे पर मिग विमान हुअा दुर्घटनाग्रस्त, पायलट सुरक्षित

हालांकि, इसका पायलट सुरक्षित निकलने में कामयाब रहा. रूस में निर्मित इस प्रारूप के विमान की यह ऐसी पहली घटना है.

Bhasha Updated On: Jan 03, 2018 08:44 PM IST

0
गोवा हवाईअड्डे पर मिग विमान हुअा दुर्घटनाग्रस्त, पायलट सुरक्षित

गोवा हवाईअड्डे पर आज नौसेना का एक 'मिग 29 के' लड़ाकू विमान रनवे पर फिसल गया और उसमें आग लग गई. हालांकि, इसका पायलट सुरक्षित निकलने में कामयाब रहा. रूस में निर्मित इस प्रारूप के विमान की यह ऐसी पहली घटना है.

यह दुर्घटना उस वक्त हुई, जब विमान नौसेना के आईएनएस हंस अड्डे पर उड़ान भरने की कोशिश कर रहा था. इसके चलते गोवा हवाईअड्डे पर उड़ानें दोपहर साढ़े 12 बजे से दोपहर करीब 1 बज कर 40 मिनट तक निलंबित कर दिया गया. बता दें कि गोवा का दोबोलिम हवाईअड्डा नौसेना अड्डे के अंदर ही स्थित है.

नौसेना ने एक बयान जारी कर नई दिल्ली में कहा कि दुर्घटना के कारण की जांच करने के लिए एक ‘बोर्ड ऑफ इनक्वायरी’ का आदेश दे दिया गया है. इसमें कहा गया है कि गोवा के नौसेना अड्डे पर आज हुई दुर्घटना में नौसेना का एक मिग 29 के. विमान शामिल है. विमान रनवे से उतर गया और इसमें आग लग गई.

नौसेना ने बताया कि आग को सुरक्षा सेवाओं के द्वार तेजी से बुझा दिया गया. रनवे को साफ कर दिया गया और सेवाएं तत्काल बहाल हो गईं. फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग गोवा एरिया- रियर एडमिरल पुनीत के. बहल ने बताया ‘‘पायलट सुरक्षित है, जब पायलट उड़ान भर रहा था, तभी विमान में कुछ गड़बड़ी आई जिसकी जांच करनी होगी.’’ गड़बड़ी के चलते विमान उड़ान नहीं भर सका और नतीजतन पायलट उड़ान भरने की दिशा में ही विमान लेकर आगे बढ़ता रहा और यह दूसरे छोर पर रनवे से उतर गया.

बहल ने कहा ‘‘फिर सौभाग्य से विमान रूक गया और रनवे के किनारे से करीब 150 मीटर दूर यह बांई ओर मुड़ गया और वहां रूक गया.’’ उन्होंने कहा ‘‘मिग 29 के. को शामिल किए जाने के बाद से यह पहली बड़ी घटना है.’’ बहल ने कहा, ‘‘यह कहना जल्दबाजी होगी कि यह एक मानवीय गलती थी, या मशीनी क्योंकि हमें जांच करनी होगी जिसमें कुछ वक्त लगेगा.’’ आगे उन्होंने कहा ‘‘गलती किस वजह से हुई, यह मशीनी थी या किसी और कारण से, हम जांच के बाद ही जान पाएंगे. ’’ गोवा हवाईअड्डे के निदेशक बीसीएच नेगी ने मीडिया को बताया कि हवाईअड्डे पर एक असैन्य विमान के उतरने के 10 मिनट पहले ही यह घटना हुई.

उन्होंने बताया कि हवाईअड्डे पर परिचालन दोपहर साढ़े बारह बजे के बाद निलंबित कर दिया गया, जो करीब एक बज कर 40 मिनट पर बहाल हो गया. गौरतलब है कि रूस निर्मित मिग 29 के. को सेना में 11 मई 2016 को शामिल किया गया था. इस विमान को फिलहाल विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य पर तैनात किया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi