S M L

#Me too Impact: नाना पाटेकर को महाराष्ट्र महिला आयोग का नोटिस

तनुश्री दत्ता के लगाए गए आरोपों के बाद से ही नाना पाटेकर की मुसीबतें कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं

Updated On: Oct 09, 2018 05:05 PM IST

FP Staff

0
#Me too Impact: नाना पाटेकर को महाराष्ट्र महिला आयोग का नोटिस

तनुश्री दत्ता के छेड़छाड़ के आरोपों का सामना कर रहे अभिनेता नाना पाटेकर की मुसीबतें कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं. मंगलवार को महाराष्ट्र राष्ट्रीय महिला आयोग ने अभिनेता नाना पाटेकर को नोटिस भेज दिया है.

महिला आयोग ने नाना पाटेकर के साथ राकेश सारंग, गणेश आचार्य सहित कुछ और लोगों को भी नोटिस भेजा है. आयोग ने यह भी पूछा है कि तनुश्री द्त्ता की शिकायत की जांच में कहां तक पहुंची है.

महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग ने नाना पाटेकर और बाकी लोगों को अगले 10 दिनों में नोटिस का जवाब देने को कहा है.

क्या हैं तनुश्री दत्ता के आरोप?

तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर पर साल 2008 में एक फिल्म 'हॉर्न ओके प्लीज' के सेट पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है. लेकिन नाना पाटेकर ने तनुश्री द्वारा लगाए गए आरोपों को खारिज कर दिया है. हालांकि इस मामले पर पहले ही बॉलीवुड दो धड़ों में बट गया है. जबकि इन आरोपों के सामने आने के बाद देशभर में #MeToo कैंपेन शुरू हो गया है.

2008 में नाना पाटेकर पर छेड़छाड़ के आरोप लगाने के बाद तनुश्री ने उनके खिलाफ मुंबई के ओशिवारा पुलिस स्टेशन में अपनी शिकायत भी दर्ज कराई थी. इसके जवाब में नाना पाटेकर ने भी अपनी सफाई पेश की थी. फिल्म अभिनेता ने कहा की जो उन्होंने दस साल पहले कहा था वह उस पर अडिग हैं. इसके चलते कई बॉलीवुड शख्सियतें नाना पाटेकर के समर्थन में आ गई थीं. जबकि कई लोगों ने तनुश्री के समर्थन में भी आवाज उठाई.

यह मामला सिर्फ तनुश्री और नाना पाटेकर तक ही सीमित न रह कर देश भर में मीटू अभियान के रूप में बदल गया है. जिसके तहत मीडिया और बॉलीवुड के कई नामचीन लोगों के खिलाफ महिलाएं खुल कर सोशल मीडिया पर लिख रही हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi