S M L

#MeToo कैंपेन का असर: हिंदुस्तान टाइम्स के पॉलिटिकल एडिटर ने छोड़ा पद

#Metoo कैंपेन के तहत हिंदुस्तान टाइम्स के ब्यूरो चीफ और पॉलिटिकल एडिटर प्रशांत झा पर भी एक महिला पत्रकार ने शोषण का आरोप लगाया था

Updated On: Oct 08, 2018 08:48 PM IST

FP Staff

0
#MeToo कैंपेन का असर: हिंदुस्तान टाइम्स के पॉलिटिकल एडिटर ने छोड़ा पद

बॉलीवुड एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता के नाना पाटेकर पर छेड़छाड़ के आरोप लगाने के बाद से देश में #MeToo कैंपेन काफी चर्चा में है. इस घटना के बाद कई महिला पत्रकारों ने मीडिया जगत से जुड़े अपने सीनियर्स पर शोषण का आरोप लगाया. #Metoo कैंपेन के तहत हिंदुस्तान टाइम्स के ब्यूरो चीफ और पॉलिटिकल एडिटर प्रशांत झा पर भी एक महिला पत्रकार ने शोषण का आरोप लगाया था. जिसके बाद प्रशांत को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा है.

संपादक को लिखे अपने खत में झा ने कहा, 'मेरे खिलाफ कई आरोप लगाए गए हैं. मेरे निजी आचरण के खिलाफ कई नैतिक सवाल उठाए गए हैं. इसके चलते मुझे लगता है कि मेरे लिए पद से इस्तीफा दे देना ही ठीक होगा.'

प्रशांत झा समेत शुक्रवार से कई पत्रकारों पर महिला पत्रकारों ने शोषण के आरोप लगाए हैं. बेंगलुरु के मिरर नाउ अखबार की पूर्व पत्रकार संध्या मेनन ने टाइम्स ऑफ इंडिया के रेजिडेंट एडिटर के.आर श्रीनिवास पर साल 2008 में यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. संध्या ने एचआर से इसकी शिकायत भी थी लेकिन कोई राहत नहीं मिली. अंत में उन्होंने नौकरी छोड़ दी.

#Metoo के तहत एक महिला ने मशहूर लेखक चेतन भगत के साथ बातचीत का स्क्रीनशॉट भी सोशल मीडिया पर शेयर किया था. जिसके बाद लेखक चेतन भगत ने संबंधित महिला से सोशल मीडिया पर माफी मांगी. उनके अलावा कमेडियन उत्सव चक्रबर्ती, एक्टर रजत कपूर ने भी माफी मांगी है. यही नहीं एआईबी के दो फाउंडर्स मेंबर्स ने भी अपने पद से इस्तीफा दिया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi