S M L

मेघालय: प्रशासन ने शिलांग में कर्फ्यू में दी सात घंटे की ढील

बुधवार को भी प्रशासन ने शहर के इन हिंसा संभावित क्षेत्रों में कर्फ्यू में कुछ समय के लिए ढील दी थी. राज्यपाल गंगा प्रसाद ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की थी

Bhasha Updated On: Jun 07, 2018 03:51 PM IST

0
मेघालय: प्रशासन ने शिलांग में कर्फ्यू में दी सात घंटे की ढील

मेघालय की राजधानी शिलांग के किसी भी हिस्से से पिछले 24 घंटे के दौरान हिंसा की कोई घटना सामने नहीं आने के बाद गुरुवार को 14 (हिंसा) प्रभावित क्षेत्रों में सात घंटे के लिए कर्फ्यू में ढ़ील दी गई है. जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि जिला प्रशासन पूरे शहर में कर्फ्यू में ढील देने की संभावना का परीक्षण कर रहा है.

ईस्ट खासी हिल्स के जिला उपायुकत पी एस दखार ने बताया कि लुमडिंगजरी थानाक्षेत्र और कैंटोनमेंट बीट हाऊस के 14 प्रभावित क्षेत्रों में कर्फ्यू में गुरूवार सुबह सात बजे से दोपहर दो बजे तक के लिए ढ़ील दी गई है. लेकिन मोबाइल इंटरनेट और संदेश सेवाएं एहतियात के तौर पर अब भी बंद रहेंगी.

बुधवार को भी प्रशासन ने शहर के इन हिंसा संभावित क्षेत्रों में कर्फ्यू में कुछ समय के लिए ढील दी थी. राज्यपाल गंगा प्रसाद ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की थी.

मालूम हो शिलांग 29 मई से हिंसा की चपेट में है. उससे पहले शहर के पंजाब लेन इलाके, जिसे स्वीपर कॉलोनी भी कहा जाता है, में सिख बाशिंदों और सरकारी बसों के खासी ड्राइवरों के बीच झड़प हुई थी. हिंसा के मद्देनजर पूरे शहर में भारी सुरक्षा बंदोबस्त किया गया है. हिंसा में पुलिसकर्मियों और सीआरपीएफ कर्मियों समेत दस लोग घायल हो गये थे.

भाजपा समर्थित मेघालय डेमोक्रेटिक एलायंस सरकार ने पंजाबी बहुल स्वीपर कॉलोनी को अन्यत्र स्थानांतरित करने के मुद्दे का स्थायी हल ढूंढने के लिए उप मुख्यमंत्री प्रीस्टोन टीनसोंग की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय समिति बनायी है. उपमुख्यमंत्री ने बुधवार को कहा कि समिति स्थायी हल निकालेगी.

जिले के एक अन्य अधिकारी के अनुसार राज्य की राजधानी में पिछले तीन दिनों से स्थिति में सुधार के संकेत हैं. उन्होंने कहा कि 14 संभावित क्षेत्रों को छोड़कर बाकी क्षेत्र में जनजीवन सामान्य होने लगा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi