S M L

ये हैं रियल लाइफ के 'फुंसुक वांगड़ू' वांगचुक और गरीबों के मसीहा वाटनानी

एशिया के नोबल प्राइज कहे जाने वाले रैमन मैग्सेसे अवार्ड विनर्स की लिस्ट सामने आ गई है. मैग्सेसे अवार्ड पाने वालों में इस बार दो भारतीयों सोनम वांगचुक भारत वाटनानी के नाम भी शामिल हैं

Updated On: Jul 26, 2018 04:43 PM IST

FP Staff

0
ये हैं रियल लाइफ के 'फुंसुक वांगड़ू' वांगचुक और गरीबों के मसीहा वाटनानी

एशिया के नोबल प्राइज कहे जाने वाले रैमन मैग्सेसे अवार्ड विनर्स की लिस्ट सामने आ गई है. मैग्सेसे अवार्ड पाने वालों में इस बार दो भारतीयों सोनम वांगचुक भारत वाटनानी के नाम भी शामिल हैं. आईए जानते हैं कौन हैं देश का नाम रोशन करने वाली ये दो हस्तियां...

यही हैं 3 idiots के फुंसुक वांगड़ू

आप सभी को 2009 में आई मशहूर बॉलीवुड फिल्म '3 idiots' तो याद ही होगी. इसमें लोगों को आमिर खान का कैरेक्टर बेहद पसंद आया था. फिल्म में 'फुंसुक वांगड़ू' बने आमिर खान का किरदार सभी को खूब पसंद आया था. पर रियल लाइफ के वांगड़ू आमिर नहीं बल्कि सोनम वांगचुक हैं. आमिर ने फिल्म में वांगचुक का ही किरदार निभाया था. वांगचुक ने शिक्षा, संस्कृति और पर्यावरण के जरिए सामुदायिक प्रगति के लिए बेहतरीन काम किया है. 1988 में इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल करने के बाद वांगचुक ने स्टूडेंट्स एजुकेशन ऐंड कल्चरल मूवमेंट ऑफ लद्दाख (SECMOL) की स्थापना की और लद्दाखी छात्रों को पढ़ाने-लिखाने का काम शुरू किया. इसके बाद 1994 में उन्होंने 'ऑपरेशन न्यू होप' की शुरुआत की. ओएनएच के पास करीब 700 ट्रेंड टीचर्स थे.

गरीबों के मसीहा

मैग्सेसे अवार्ड विनर्स की लिस्ट में एक और भारतीय का भी नाम है और वो हैं डॉक्टर भारत वाटनानी. वाटनानी को हजारों मानसिक रूप से बीमार और गरीब लोगों को उनके परिवारों से मिलाने के नेक कार्य के लिए ये अवार्ड दिया जाएगा. वटवानी और उनकी पत्नी ने मिलकर मानसिक तौर पर बीमार और सड़कों पर रहने वाले गरीब लोगों का इलाज करवाना शुरू किया और उन्हें खाने-पीने से लेकर रहने के लिए जगह तक मुहैया कराई. उन्होंने मानसिक रूप से बीमार लोगों को उनके परिवारों से मिलाने के लिए 1988 में श्रद्धा रिहैबिलिटेशन फाउंडेशन की स्थापना की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi