S M L

मराठा प्रदर्शन: 9 अगस्त के मुंबई बंद से पहले मराठा समूहों में मतभेद

जाधवराव ने कहा कि हमारे समुदाय के ही कुछ लोग सरकार को मुश्किल में नहीं डालना चाहते हैं और कोशिश कर रहे हैं कि प्रदर्शन के प्रभाव को कम कर दिया जाए

FP Staff Updated On: Aug 08, 2018 04:50 PM IST

0
मराठा प्रदर्शन: 9 अगस्त के मुंबई बंद से पहले मराठा समूहों में मतभेद

महाराष्ट्र में मराठा समुदाय के लिए सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में आरक्षण की मांग को लेकर होने वाले प्रदर्शन पर आयोजकों में आम सहमति नहीं बन पाई है. सकल मराठा समाज ने मुंबई में शांति के साथ प्रदर्शन करने का ऐलान किया था. ठीक इसी दिन समुदाय के एक और समूह ने इसी दिन प्रदर्शन की घोषणा की है.

दूसरे ग्रुप का नेतृत्व कर रहे अमोल जाधवराव ने कहा है कि 8 अगस्त के आधी रात से शुरू होने वाला यह प्रदर्शन 24 घंटे तक चलेगा. उन्होंने कहा कि हमने 9 अगस्त को मुंबई में शांतिपूर्ण तरीके से एक प्रदर्शन का आयोजन किया है. जाधवराव ने कहा कि इस बंद के दौरान कोई हिंसा नहीं होगी और न ही किसी आपातकाल सेवाओं को रोका जाएगा.

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, जाधवराव ने कहा कि हमारे समुदाय के ही कुछ लोग सरकार को मुश्किल में नहीं डालना चाहते हैं और कोशिश कर रहे हैं कि प्रदर्शन के प्रभाव को कम कर दिया जाए.

जाधवराव ने कहा कि हम चाहते हैं कि सीएम फडणवीस द्वारा किए गए वादों का राज्य सरकार लिखित में आश्वासन दे. अगर ऐसा नहीं होता है तो हमारा प्रदर्शन जारी रहेगा.

प्रदर्शन में हिस्सा ले रहे एक अन्य व्यक्ति ने कहा कि हम कलेक्टर ऑफिस के सामने भी एक सांकेतिक प्रदर्शन करेंगे. वीरेंद्र पवार ने कहा कि आपसी सामंजस्य और सहमति की कमी के कारण मतभेद पैदा हो रहे हैं.

उन्होंने कहा कि हम शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करना चाहते हैं. हमने पहले ही देखा है कि कैसे मराठा आरक्षण के नाम पर असामाजिक तत्वों ने पिछले महीने के प्रदर्शन के दौरान नवी मुंबई, चाकन और अन्य जगहों पर हिंसक घटनाओं को अंजाम दिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi