S M L

#MeeToo: यौन उत्पीड़न की घटनाएं महिलाएं कभी नहीं भूलती: मेनका गांधी

मेनका गांधी ने कहा कि जो लोग यौन उत्पीड़न करते है महिलाएं उन्हें कभी नहीं भूलती. इसलिए मैंने कानून मंत्रालय को लिखा है कि ऐसे मामलों में शिकायत दर्ज कराने के लिए समयसीमा नहीं होनी चाहिए

Updated On: Oct 08, 2018 05:13 PM IST

FP Staff

0
#MeeToo: यौन उत्पीड़न की घटनाएं महिलाएं कभी नहीं भूलती: मेनका गांधी

देश में फिलहाल मी टू कैंपेन चर्चा का विषय बना हुआ. बॉलीवुड एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता के नाना पाटेकर पर छेड़छाड़ के आरोप लगाने के बाद इस मामले पर विवाद बढ़ता ही जा रहा है.

हाल ही में केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने भी मी टू कैंपेन पर बयान दिया है. उन्होंने कहा, मुझे खुशी है कि देश में मी टू कैंपेन शुरू हो गया है. लेकिन मैं आशा करती हूं कि ये अभियान कंट्रोल में ही रहे. उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि महिला जिम्मेदार और यौन उत्पीड़न क खिलाफ उनका गुस्सा कभी बेकार नहीं जाता.

इसके अलावा उन्होंने ये भी कहा कि जो लोग यौन उत्पीड़न करते है महिलाएं उन्हें कभी नहीं भूलती. इसलिए मैंने कानून मंत्रालय को लिखा है कि ऐसे मामलों में शिकायत दर्ज कराने के लिए समयसीमा नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कहा, अब 10-15 साल बाद भी लोग ऐसे मामलों की शिकायत दर्ज करा सकते हैं.

तनुश्री दत्ता के आरोपों पर क्या बोलीं मेनका गांधी?

इससे पहले मेनका गांधी ने टीवी चैनलों से कहा था कि,‘हमें मी टू इंडिया जैसा अभियान चलाने चाहिए जिसमें अगर किसी महिला के साथ कभी उत्पीड़न हुआ हो, वह हमें लिखे और हमें उसकी जांच करनी चाहिए.’

यह पूछे जाने पर कि लोग तनुश्री दत्ता से सवाल कर रहे हैं कि उसने मामले का खुलासा करने में इतनी देर क्यों की. मेनका ने कहा कि लोगों ने यह सवाल उस पीड़िता से भी किया था, जिसने पहली बार हॉलीवुड निर्देशक हार्वे वेनस्टेन के खिलाफ मुंह खोला था. इस बात का कोई फर्क नहीं पड़ता कि पीड़िता कब सामने आती है.

केन्द्रीय मंत्री ने कहा,'लेकिन मैं यह जानती हूं कि जब आपके शरीर का उत्पीड़न किया जाता है तो आप उसे हमेशा याद रखते हैं. यदि किसी भी तरह यौन उत्पीड़न होता है तो उसकी एसएचई बॉक्स के जरिए शिकायत की जा सकती है. हम कार्रवाई करेंगे.’

#Metoo का असर

#Metoo कैंपेन की वजह से हिंदुस्तान टाइम्स के ब्यूरो चीफ और पॉलिटिकल एडिटर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. उनपर भी शोषण का आरोप लगाया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi