S M L

मारी गई नरभक्षी बाघिन अवनि, दो साल में 13 इंसानों को बनाया था शिकार

सुप्रीम कोर्ट ने इस साल की शुरुआत में आधिकारिक रूप से टी-1 कही जाने वाली अवनि को शूट एट साइट का ऑर्डर दिया था

Updated On: Nov 03, 2018 11:05 AM IST

FP Staff

0
मारी गई नरभक्षी बाघिन अवनि, दो साल में 13 इंसानों को बनाया था शिकार
Loading...

महाराष्ट्र में पिछले दो सालों में 13 इंसानों की मौत के लिए जिम्मेदार मानी जाने वाली नरभक्षी बाघिन का आखिरकार अंत हो गया. शुक्रवार को महाराष्ट्र के यवतमाल में फॉरेस्ट गार्ड्स ने इस टाइग्रेस- टी 1 को गोली मार दी. सुप्रीम कोर्ट ने इस साल की शुरुआत में अवनि को देखते ही गोली मारने की अनुमति दी थी.

न्यूज एजेंसी एएनआई ने रिपोर्ट किया कि शुक्रवार की रात में यवतमाल क्षेत्र में अवनि की तलाश पूरी हो गई और उसे घेरकर गोली मार दी गई. माना जाता है कि अवनि ने पिछले दो सालों में 13 इंसानों का शिकार किया था.

सुप्रीम कोर्ट ने इस साल की शुरुआत में आधिकारिक रूप से टी-1 कही जाने वाली अवनि को शूट एट साइट का ऑर्डर दिया था. कोर्ट ने सभी एनिमल राइट्स एक्टिविस्ट्स की याचिकाओं को खारिज कर दिया था, जिसमें उसे जिंदा पकड़ने का आग्रह किया गया था.

अवनि के लिए तलाश तब शुरू हुई, जब पिछले साल उसके हाथों पांच लोगों के मारे जाने की खबर आई. अधिकारियों का मानना है कि पिछले दो सालों में दूसरे आठ मौतों की जिम्मेदार भी वही थी.

Change.org संस्था की ओर से 9,000 से ज्यादा लोगों ने अवनि को मारने के बजाय जिंदा पकड़ने के आग्रह के साथ एक याचिका पर हस्ताक्षर किए थे.

अवनि के शव को नागपुर के गोरेवाड़ा रेस्क्यू सेंटर ले जाया गया. यहां उसका पोस्टमार्टम किया जाएगा.

आमतौर पर बाघ इंसानों पर हमला नहीं करते, लेकिन अगर उनके मुंह एक बार इंसानी खून लग जाए, तो उनके नरभक्षी बनते देर नहीं लगती.

न्यूज18 की रिपोर्ट के मुताबिक, 2016 के अक्टूबर में उत्तराखंड में भी एक नरभक्षी बाघ को मारा गया था. इस पर जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क के बाहर एक महिला के अलावा तीन और गांव वालों को मारने का शक था. उसके मारे जाने के बाद गांव वालों ने उसके शव के साथ तीन घंटों तक गांव भर में जुलूस निकाला था.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi