S M L

आधा जला हुआ शव खा रहा था आदमी, उसके बाद जो हुआ वो हैरान कर देगा...

पुलिस ने तिरुनेलवेली जिले के एक श्मशान में कथित तौर पर आधा जला हुआ शरीर खाने के बाद एक 43 वर्षीय व्यक्ति को मेंटल हॉस्पिटल भेजा है.

Updated On: Feb 04, 2019 08:03 PM IST

FP Staff

0
आधा जला हुआ शव खा रहा था आदमी, उसके बाद जो हुआ वो हैरान कर देगा...

तमिलनाडु में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. जहां एक इंसान को आधा जला हुआ शरीर खाने के चलते मेंटल हॉस्पिटल भेज दिया गया है.

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक पुलिस ने तिरुनेलवेली जिले के एक श्मशान में कथित तौर पर आधा जला हुआ शरीर खाने के बाद एक 43 वर्षीय व्यक्ति को मेंटल हॉस्पिटल भेजा है. जिले के वासुदेवनल्लूर शहर की पुलिस के मुताबिक टी रामनाथपुरम के ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि एस मुरुगेसन नाम के एक व्यक्ति को एक महिला के शरीर से मांस काटते देखा गया.

वासुदेवनल्लूर पुलिस के सूत्रों के मुताबिक 'ग्रामीणों ने बताया कि टी रामनाथपुरम गांव में एक 70 वर्षीय महिला की मौत हो जाने के बाद उसके रिश्तेदारों ने स्थानीय श्मशान में उसका शव जला दिया. इसके बाद रात को 1.20 बजे जब कुछ लोग उस रास्ते से गए तो उन्होंने एक अज्ञात व्यक्ति को आधे जले हुए शव के पास राख हटाते हुए देखा.'

सूत्रों ने यह भी कहा कि आदमी के पास मांस काटने के लिए दरांती थी. वासुदेवनल्लूर पुलिस के एक निरीक्षक एंटनी ने कहा कि शुरू में उन्हें लगा कि वह व्यक्ति श्मशान का परिचारक था. एंटनी ने कहा 'लोगों ने दावा किया कि उन्होंने उसे मांस काटकर खाते हुए देखा. जब वे चिल्लाए और उस पर पथराव किया, तो वह नहीं हिला. पुलिस अधिकारी ने कहा कि जब वे घटनास्थल पर पहुंचे तो उन्होंने उस व्यक्ति से पूछताछ की.'

एंटनी ने कहा 'जब हमने स्थानीय लोगों से पूछताछ की तो उन्होंने कहा कि यह टी रामनाथपुरम गांव का एक दिहाड़ी मजदूर मुरुगेसन था. वह ड्रग्स का आदी था, इसलिए उसकी पत्नी और बच्चों ने उसे छोड़ दिया था. इसीलिए मुरुगेसन इधर-उधर घूमने लगे.' ग्रामीणों ने कहा कि उन्हें अक्सर श्मशान में मानव मांस बिखरा हुआ मिला है और अब संदेह है कि यह मुरुगेसन हो सकते हैं जिसने उन्हें खाया होगा.

हालांकि, एंटनी ने कहा कि वे अब तक मानव मांस खाने की मुरुगेसन की आदत की पुष्टि नहीं कर पाए हैं. उन्होंने कहा 'स्थानीय लोगों ने यह आरोप लगाया. हम मौके पर पहुंचे और मुरुगेसन से पूछताछ की. हालांकि वह मानसिक रूप से अस्थिर है, इसलिए हमने उसे किलपुक में इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ में भेज दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi