S M L

ममता बनर्जी-CBI पर सियासत गर्म, टीएमसी के समर्थन में उतरा विपक्ष, BJP पहुंच सकती है चुनाव आयोग

जहां एक तरफ कांग्रेस समेत ज्यादातर विपक्षी पार्टियां टीएमसी के समर्थन में हैं, वहीं बीजेपी नेता और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, मुख्तार अब्बास नकवी और भूपेंद्र यादव आज इस विवाद को लेकर चुनाव आयोग से मिल सकते हैं

Updated On: Feb 04, 2019 10:52 AM IST

FP Staff

0
ममता बनर्जी-CBI पर सियासत गर्म, टीएमसी के समर्थन में उतरा विपक्ष, BJP पहुंच सकती है चुनाव आयोग

सीबीआई और ममता बनर्जी के बीच शुरू हुई गहमागहमी अब बड़े राजनीतिक विवाद का रूप ले चुकी है. पार्टियां इसमें दो खेमों में बंटतीं नजर आ रही हैं. जहां एक तरफ कांग्रेस समेत ज्यादातर विपक्षी पार्टियां टीएमसी के समर्थन में हैं, वहीं बीजेपी ने सीबीआई की कार्रवाई का पुरजोर समर्थन किया है. बीजेपी नेता और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, मुख्तार अब्बास नकवी और भूपेंद्र यादव आज इस विवाद को लेकर चुनाव आयोग से मिल सकते हैं. वहीं विपक्षी पार्टियों ने भी एक मेमोरेंडम पर साइन कर इसे चुनाव आयोग को सौंपने का फैसला किया है.

ममता बनर्जी ने अपने धरने को 'सेव द कॉन्स्टिट्यूशन' का नाम दिया है

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव समेत कई विपक्षी नेता ममता बनर्जी के समर्थन में आज कोलकाता पहुंच सकते हैं. इसके अलावा सीबीआई भी इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में जाने का मन बना रही है. वहीं बीते रविवार शाम से धरने पर बैठी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपने धरने को 'सेव द कॉन्स्टिट्यूशन' का नाम दिया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार संसद में 10.30 बजे से 10.45 के बीच ओपन पार्टीज मीटिंग होने वाली है. इस मामले में विपक्ष ममता बनर्जी के साथ है.

बीजेडी अपना पक्ष रखेगी कि इस मामले में वह किसके साथ खड़ी है

ओपन पार्टीज मिलकर कोई संसदीय रणनीति बना सकती है. थोड़े ही समय में बीजेडी अपना पक्ष रखेगी कि इस मामले में वह किसके साथ खड़ी है. वहीं इस मामले में टीआरएस ने कोई स्टैंड नहीं लिया है. सूत्रों के मुताबिक पार्टी दूसरों के मुद्दों में नहीं पड़ना चाहती है. पश्चिम बंगाल में सीबीआई के मुद्दे पर आंध्र प्रदेश के सीएम और टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा- हम आज दिल्ली में विपक्षी पार्टी के नेताओं के साथ विचार-विमर्श करेंगे और राष्ट्रव्यापी आंदोलन पर एक कार्य योजना का मसौदा तैयार करेंगे. टीडीपी के सांसद आज अन्य विपक्षी नेताओं के साथ जोरदार विरोध प्रदर्शन भी करेंगे.

सिंघवी पश्चिम बंगाल सरकार की तरफ से कोर्ट में पेश हो सकते हैं

वहीं खबर है कि सीबीआई ने अपने अधिकारियों को हिरासत में लिए जाने की घटना को एजेंसी की कार्रवाई में बाधा डालने जैसा माना है. सीबीआई कोर्ट की कार्रवाई में बाधा डालने की याचिका के साथ सुप्रीम कोर्ट पहुंच सकती है. इस याचिका में पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव, डीजीपी और कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के खिलाफ कोर्ट के निर्देश पर चिट फंड घोटाला केस में की जा रही जांच में बाधा डालने का आरोप लगाया है. इसके अलावा सीबीआई एक अन्य याचिका में यह भी मांग कर सकती है कि कोर्ट कोलकाता पुलिस कमिश्नर को चिट फंड घोटाले में शामिल होने और जांच में सहयोग देने का आदेश दे. दूसरी तरफ कांग्रेस नेता और सीनियर एडवोकेट अभिषेक मनु सिंघवी पश्चिम बंगाल सरकार की तरफ से कोर्ट में पेश हो सकते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi