S M L

महात्मा गांधी को सात दिन में हाजिर होने का नोटिस

जांजगीर के डभरा नगर पंचायत के मुख्य नगर पंचायत अधिकारी ने भेजा नोटिस

Updated On: Dec 10, 2016 04:16 PM IST

FP Staff

0
महात्मा गांधी को सात दिन में हाजिर होने का नोटिस

छत्तीसगढ़ के जांजगीर में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां अवैध भवन निर्माण के आरोप में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को नोटिस जारी कर उनसे जवाब मांगा गया है.

जांजगीर के डभरा नगर पंचायत के मुख्य नगर पंचायत अधिकारी ने महात्मा गांधी को सात दिन के अंदर भवन निर्माण संबंधी सभी दस्तावेजों के साथ कार्यालय में पेश होने का आदेश दिया है.

इतना ही नहीं, नोटिस का जवाब और हाजिर नहीं होने पर पालिका अधिनियम-1961 की विभिन्न धारा के तहत महात्मा गांधी को कानूनी कार्रवाई की भी चेतावनी दी गई है.

लापरवाही के इतने बड़े मामले की जानकारी मिलने पर कांग्रेस ने नगर पंचायत अधिकारी नीतू अग्रवाल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

कांग्रेस ने कहा कि यह सब महात्मा गांधी का अपमान करने के लिए किया गया है. कांग्रेस पंचायत के इस कदम को अति उत्साह में उठाया गया कदम बता रही है.

कांग्रेस ने सीएम रमन सिंह के नाम थाना प्रभारी और डभरा एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है. इसमें अधिकारी नीतू अग्रवाल के खिलाफ एक्शन लेने की मांग की गई है.

कांग्रेस ने धमकी दी है कि वह इस तरह महात्मा गांधी का अपमान सहन नहीं करेगी. उन्होंने सरकार से तीन दिन के अंदर एक्शन लेने को कहा. ऐसा नहीं होने पर सरकार को बंद और धरना-प्रदर्शन झेलने के लिए तैयार रहना चाहिए.

दरअसल, शासन के निर्देशों के अनुसार सभी अवैध भवन निर्मार्ताओं को नोटिस भेजकर निर्माण संबधी जानकारी मंगाई जा रही है. ताकि नए शुल्क लेकर उनका नवीनीकरण किया जा सके.

इसी के तहत पंचायत ने महात्मा गांधी को भी नोटिस भेज दिया. जबकि 30 जनवरी 1948 को ही राष्ट्रपिता दुनिया छोड़ चुके हैं.

(प्रदेश 18 से साभार)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi