S M L

महाराष्ट्र में विस्फोटकों के साथ गिरफ्तार लोगों से संबंध के सिलसिले में 16 लोगों से पूछताछ

महाराष्ट्र एटीएस आरोपियों के फोन और सोशल मीडिया अकाउंट की भी छानबीन करेगी. साथ ही ये भी पता किया जाएगा कि नरेंद्र दाभोलकर, गोविंद पनसारे और गौरी लंकेश की हत्या में इनका कोई हाथ था या नहीं

Bhasha Updated On: Aug 11, 2018 08:26 PM IST

0
महाराष्ट्र में विस्फोटकों के साथ गिरफ्तार लोगों से संबंध के सिलसिले में 16 लोगों से पूछताछ

महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने राज्य में विस्फोट को अंजाम देने की कथित साजिश के सिलसिले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया था. इन तीन लोगों से संभावित संबंध होने के शक के आधार पर एटीएस ने कम से कम 16 लोगों से पूछताछ की है. एटीएस ने मुंबई के निकट नालासोपारा से वैभव राउत, शरद कालस्कर और पुणे से सुधन्वा गोंधालेकर को गिरफ्तार किया था. राउत के आवास और दुकान पर छापेमारी के बाद एटीएस ने 20 देसी बम और बम सर्किट स्केच समेत भारी मात्रा में विस्फोटक जब्त किये थे.

एटीएस प्रमुख अतुल चंद्र कुलकर्णी ने कहा कि इस बात की जांच की जाएगी कि क्या इन लोगों का संबंध नरेंद्र दाभोलकर, गोविंद पनसारे और पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या से भी था. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि एटीएस ने उन तीनों के साथ संबंध होने के आधार पर नालासोपारा, पुणे, सतारा, सोलापुर और राज्य में अन्य जगहों पर कम से कम 16 अन्य लोगों से पूछताछ की है. हालांकि, उन्होंने इस बात का खुलासा नहीं किया कि और गिरफ्तारियां होंगी या नहीं.

पुलिस उनके मोबाइल फोन की जांच करके इस बात का पता लगाने की भी कोशिश कर रही है कि क्या गिरफ्तार लोग एक ही तरह के सोशल मीडिया ग्रुप का हिस्सा थे. उनके मोबाइल फोन को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा. राउत के कथित सोशल मीडिया अकाउन्ट में उल्लेख था कि वह दक्षिणपंथी समूह सनातन संस्था से जुड़ा हुआ है. हालांकि, सनातन संस्था ने इस बात से इंकार किया कि वह उनके संस्था से जुड़ा था.

मुंबई की एक अदालत ने गिरफ्तार तीन लोगों को 18 अगस्त तक एटीएस की हिरासत में भेज दिया.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi