S M L

मुंबई: MNS के कार्यकर्ताओं ने अब PWD के ऑफिस में मचाई तोड़फोड़

बीते दिनों पांच लोगों की मौत के बावजूद पीडब्लूडी मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने अपने एक बयान में कहा कि जरूरी नहीं कि सारे रोड एक्सीडेंट का कारण गड्ढे हों

Updated On: Jul 16, 2018 03:39 PM IST

FP Staff

0
मुंबई: MNS के कार्यकर्ताओं ने अब PWD के ऑफिस में मचाई तोड़फोड़

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के कार्यकर्ता आए दिन मनमानी और उत्पात मचाते रहते हैं. ताजा घटनाक्रम में एमएनएस के कार्यकर्ताओं ने पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट के ऑफिस में घुसकर जमकर तोड़फोड़ की. प्रदेश में भारी बारिश के कारण सड़क के गड्ढों  में पानी भरने से अब तक 5 लोगों की मौत हो गई है. इसी के विरोध में एमएनएस के कार्यकर्ताओं ने पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट के कार्यालय में घुसकर तोड़फोड़ मचाई.

बता दें कि प्रदेश की सड़कों की हालत बारिश के मौसम में और भी खराब हो जाती है. जगह-जगह हुए गड्ढों में पानी भर जाने से लोग धोखे से या तो इसमें गिर जाते हैं या आने-जाने वाली गाड़ियों का इन रास्तों से गुजरने में एक्सिडेंट हो जाता है. यह केवल इसी साल की बात नहीं है, हर साल होने वाली ऐसी घटनाओं के बावजूद बीएमसी के कानों तक यह बात नहीं पहुंचती. लोगों ने इस बार शांत तरीके से बीएमसी की नजरअंदाजी का विरोध भी किया. जिसके बाद बीएमसी और केडीएमसी ने मामले से पल्ला झाड़ते हुए कहा कि अब बारिश के बाद ही कुछ किया जा सकता है.

एमएनएस के कार्यकर्ताओं ने भी इस तोड़फोड़ के पूर्व 9 जुलाई को मामले का विरोध किया था. एमएनएस ने सड़क के गड्ढों में हाई जम्प लगाने की प्रतियोगिता आयोजित की थी. हर गड्ढे का नाम प्रदेश के मंत्रियों पर रखा गया था लेकिन इन सारी कोशिशों के बावजूद गड्ढों की हालत जस की तस रह गई.

चौंकाने वाली बात तो ये है कि पांच लोगों की मौत के बावजूद पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट के मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने अपने एक बयान में कहा कि जरूरी नहीं कि सारे रोड एक्सीडेंट का कारण गड्ढे हों. मंत्री के इस बयान का काफी विरोध हुआ. जिसके बाद मंत्री ने अपने बयान के लिए  माफी मांगते हुए कहा कि उनकी मंशा लोगों को दुख पहुंचाना नहीं था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi