S M L

LIVE महाराष्ट्र बंद: हिंसक हुआ प्रदर्शन, पुणे में IT कंपनी पर पथराव, कर्मचारियों को दी धमकी

9 अगस्त को मराठा आंदोलन के दो साल पूरे हो रहे हैं. आंदोलन की दूसरी वर्षगांठ पर मराठा संगठनों ने बंद का ऐलान किया है

| August 09, 2018, 03:39 PM IST

FP Staff

0

हाइलाइट

Aug 9, 2018

  • 16:53(IST)

    नागपुर में मराठा प्रदर्शनकारियों ने मनकापुर रिंगरोड पर चक्काजाम करने की कोशिश की. उन्होंने नागपुर में ट्रेनें रोकने की भी कोशिश की लेकिन रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (RPF) की सतर्कता के चलते ऐसा करने में असफल रहे. 

  • 16:38(IST)

    इस बीच बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों के सरकारी इमारतों में तोड़फोड़ करने की खबर भी सामने आ रही है

  • 15:35(IST)

  • 15:22(IST)

    पुणे में मराठा आंदोलन हिंसक हो चुका है. पुणे के जिलाधिकारी ऑफिस में आंदोलनकारियों ने तोड़फोड़ की है. खबर को कवर कर रहे पत्रकारों के साथ बदसलूकी की घटना भी सामने आई है. वहं एक आईटी कंपनी पर पथराव कर इमारत के काँच तोड़ दिए गए और कर्मचारियों घर जाने की धमकी दी गई है.

  • 14:00(IST)

    मुंबई में आरक्षण की मांग कर रहे मराठा प्रदर्शनकारियों ने आंखों पर पट्टी और काले रंग का रिबन बांधकर विरोध जताया.

  • 13:23(IST)

    बंद के दौरान प्रदर्शनकारी मुंबई के बांद्रा में कलेक्टर ऑफिस के बाहर धरने पर बैठे हैं. मराठा समुदाय राज्य की आबादी का लगभग 30 फीसदी हैं जो 16 फीसदी आरक्षण की मांग कर रहे हैं.

  • 13:17(IST)

    एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया कि संवेदनशील जगहों पर रैपिड एक्शन फोर्स की छह टुकड़ियां भेजी गई हैं. इसके अलावा सीआईएसएफ और स्टेट रिजर्व पुलिस फोर्स की एक-एक टीम भी भेजी गई है.

  • 13:15(IST)

    पुणे के बाहरी हिस्सों में कुछ जगह पत्थरबाजी की घटनाएं सामने आई हैं. बुधगांव और सांगली में भी सड़क ब्लॉक करने की घटनाएं हुई हैं. मुंबई के घाटकोपर में दुकानें बंद हैं. 

  • 11:29(IST)

    राज्य ट्रांसपोर्ट सर्विस ने ओस्मानाबाद और बुलढाणा जिले में बस सर्विस बंद कर दी है. बता दें कि कुछ दिन पहले हुए प्रदर्शन में प्रदर्शनकारियों ने बसों और सरकारी संपत्ति को काफी नुकसान पहुंचाया था.

  • 11:27(IST)

    बंद के दौरान बुलढाणा में प्रदर्शनकारी सड़कों पर टायर जलाते हुए नजर आए. इस दौरान कई लोग दुकानें बंद करवाते भी दिखे 

  • 11:06(IST)

    मुंबई के बांद्रा में बंद के दौरान कलेक्टर ऑफिस के बाहर भारी पुलिस तैनात है. पुलिस की आंदोलनकारियों से अपील है कि प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से करें और कानून व्यवस्था अपने हाथ में न लें.

  • 10:26(IST)

    मराठा क्रांति मोर्चा के महाराष्ट्र बंद के दौरान हिंसा की आशंका के चलते महाराष्ट्र स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन ने पुणे में बसें न चलाने का फैसला लिया है. 

  • 09:32(IST)

    माराठा संगठनों के बंद को देखते हुए पुणे के शिहरुर, खेड़, बारामती, जुन्नार, मवल, धौंद और भोर में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है. 

  • 09:18(IST)

    किसी भी हंगामे की आशंका को देखते हुए प्रदर्शनकारियों की वीडियोग्राफी करवाई जाएगी. ये वीडियो और सीसीटीवी फुटेज अपराधियों और हुड़दंगियों को पकड़ने में मददगार होंगे.

  • 09:18(IST)

    पिछले आंदोलन से सबक लेते हुए महाराष्ट्र में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. बंद को देखते हुए पूणे में 2200 पुलिसकर्मी, 900 होमगार्ड, एसआरपीएफ की 3 टुकड़ी, आरएएफ की 1 टुकड़ी और 20 दंगारोधी दस्ते तैनात किए गए हैं.

  • 09:13(IST)

    बंद के दौरान चाकन इंडस्ट्रियल एरिया में ज्यादातर कमर्शियल यूनिट बंद रहेंगी. चाकन पुलिस स्टेशन के सीनियर इंस्पेक्टर संतोष गिरिगोसवी ने बताया कि इस इलाके में 1000 से ज्यादा कंपनियां हैं, जो आज बंद रहेंगी.

  • 09:11(IST)

    महाराष्ट्र बंद को देखते हुए इंडिगो एयरलाइंस ने यात्रियों के लिए एडवाइजरी जारी की है. एयरलाइन ने कहा है कि बंद के कारण यातायात बाधित हो सकता है.

  • 09:10(IST)

    बंद को देखते हुए महाराष्ट्र पुलिस ने बताया कि लॉ-ऑर्डर मेंटेन रखने के लिए भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया है. महाराष्ट्र में 30 फीसदी आबादी वाला मराठा समाज 16 फीसदी आरक्षण की मांग कर रहा है.

LIVE महाराष्ट्र बंद: हिंसक हुआ प्रदर्शन, पुणे में IT कंपनी पर पथराव, कर्मचारियों को दी धमकी

मराठा समुदाय के आरक्षण की मांग को लेकर नवी मुंबई को छोड़कर पूरा महाराष्ट्र गुरुवार को बंद रखा जाएगा.  आज यानी 9 अगस्त को मराठा आंदोलन के दो साल पूरे हो रहे हैं. आंदोलन की दूसरी वर्षगांठ पर मराठा क्रांति मोर्चा के नेतृत्व में इस बंद का आह्वान किया गया है. मराठा समूहों के संघ सकल मराठा समाज ने बंद की घोषणा करते हुए कहा कि सुबह आठ बजे से शाम छह बजे तक शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन होगा.

सकल मराठा समाज के नेता अमोल जाधवराव ने कहा, 'यह राज्यव्यापी बंद होगा, जिसमें नवी मुंबई शामिल नहीं होगा. बंद से सभी आवश्यक सेवाओं, स्कूलों और कॉलेजों को अलग रखा गया है. कुछ संवेदनशील मुद्दों के कारण हमने नवी मुंबई में बंद नहीं करने का निर्णय किया है.'

इसी के साथ जाधवराव ने समर्थकों से शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करने की अपील की है. उन्होंने कहा, 'हम मराठा युवकों से अपील करते हैं कि हिंसा से दूर रहें. हम उग्र प्रदर्शन नहीं करेंगे और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे.'

फडणवीस पर लगाए आरोप

जाधवराव ने आरोप लगाए कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस केवल कुछ मराठा लोगों से बात कर रहे हैं और समुदाय के अंदर भ्रम पैदा करने का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने कहा, 'फडणवीस आंदोलन की तीव्रता को कमजोर करने का प्रयास कर रहे हैं.'

स्कूल कॉलेज रहेंगे बंद

मराठा संगठनों के बंद के मद्देनजर महाराष्ट्र के पुणे जिले में स्कूल और कॉलेज के साथ-साथ कई कंपनियों के प्लांट गुरुवार को बंद रहेंगे. जिलाधिकारी नवल किशोर राम ने यहां जारी एक आदेश में कहा कि गुरुवार को सड़क जाम किए जाने की संभावना है और जुलूस निकाला जाएगा. वाहनों पर पथराव और आगजनी की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता.

आदेश में कहा गया है कि इसलिए स्कूल और कॉलेजों को गुरुवार को बंद रखने को कहा गया है और इस सिलसिले में एक परामर्श जारी किया गया है.

जिलाधिकारी ने कहा, 'भले ही प्रदर्शन के दौरान कोई अप्रिय घटना नहीं हो लेकिन सड़कें जाम की जा सकती हैं और हम नहीं चाहते हैं कि छात्रों को कोई असुविधा हो और अभिभावकों को परेशानी हो'.

Maratha Karnti Morcha protest

महाराष्ट्र में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

इससे पहले 30 जुलाई को हुए बंद के दौरान 70 से 80 वाहनों को जला दिया गया था और उन्हें क्षति पहुंचाई गई थी. साथ ही हिंसा में दो स्कूल बसों में आग लगा दी गई थी और छात्रों की जान जोखिम में पड़ गई थी.

ऐसे में पिछले आंदोलन से सबक लेते हुए महाराष्ट्र में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. बंद को देखते हुए पूणे में 2200 पुलिसकर्मी, 900 होमगार्ड, एसआरपीएफ की 3 टुकड़ी, आरएएफ की 1 टुकड़ी और 20 दंगारोधी दस्ते तैनात किए गए हैं.

बंद के मद्देनजर चाकन औद्योगिक क्षेत्र में कई वाणिज्यिक इकाइयों को भी गुरुवार को बंद रखने का फैसला किया गया है.चाकन थाने के वरिष्ठ निरीक्षक संतोष गिरिगोसावी ने कहा, ‘चाकन एमआईडीसी क्षेत्र में 1000 से अधिक कंपनियां हैं और उनमें से ज्यादातर ने अपने प्लांट और फर्मों को गुरुवार को बंद रखने का फैसला किया है.’

उन्होंने कहा कि मराठा क्रांति मोर्चा के सदस्यों के साथ एक बैठक हुई और उन्होंने आश्वासन दिया कि सड़कों को अवरुद्ध नहीं किया जाएगा. यही संगठन पूरे राज्य में मराठों के लिए सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन का नेतृत्व कर रहा है. उन्होंने बताया कि मोर्चे के सदस्यों ने कहा है कि चाकन में एक स्थान पर धरने का आयोजन किया जाएगा.

जिला पुलिस ने प्रदर्शन के दौरान राज्य आरक्षित पुलिस बल की तीन कंपनियों और रैपिड ऐक्शन फोर्स के एक दल को संवेदनशील क्षेत्रों में तैनात करने का फैसला किया है.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi