S M L

महाराष्ट्र बंद: जातीय हिंसा के विरोध में 18 जिलों में बंद का असर

दलिता नेता प्रकाश अंबेडकर ने कहा है कि एक दिन के बुलाए गए बंद को 250 से अधिक दलित संगठनों का समर्थन है

FP Staff Updated On: Jan 03, 2018 12:47 PM IST

0
महाराष्ट्र बंद: जातीय हिंसा के विरोध में 18 जिलों में बंद का असर

महाराष्ट्र में जाति पर शुरू हुई जंग बीते 48 घंटे से जारी है. बहुजन महासंघ के नेता और संविधान निर्माता भीमराव अंबेडकर के पोते प्रकाश आंबेडकर के आह्वान पर आज यानी बुधवार को महाराष्ट्र बंद है. राज्य के 18 जिलों में इसका असर देखा जा रहा है.

63 साल के प्रकाश अंबेडकर ने कहा है कि बंद को 250 से अधिक दलित संगठनों का समर्थन है.

उन्होंने कहा कि इस मामले में अगर कार्रवाई नहीं हुई तो हम आंदोलन करेंगे. हमने गुजरात में ऊना की वारदात सही, ऐसे और कब तक सहते रहेंगे? अगर हमने भीड़ को संभाला नहीं होता तो हिंदू संस्था के कम से कम 500 लोग मारे जाते.

प्रकाश अंबेडकर ने सोमवार 1 जनवरी की हिंसा को उकसाने के लिए स्थानीय तीन नेताओं पर आरोप लगाया है. इस हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी. प्रकाश ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि इसके लिए तीन लोगों संबाजी भिडे, मिलिंद एकबोटे और घुघेश को मैं दोषी मान रहा हूं.

मंगलवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के इस पूरी घटना की न्यायिक जांच के आदेश का प्रकाश अंबेडकर ने स्वागत किया है. उन्होंने कहा जांच किसी गैर दलित जज से कराई जानी चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi